निजामुद्दीन मरकज केस: 98 इंडोनेशियाई और किर्गिस्तान के 23 नागरिकों को साकेत कोर्ट से मिली राहत

100 इंडोनेशियाई नागरिकों की आज कोर्ट में पेशी थी. इनमें से जहां 98 विदेशी नागरिकों ने अपनी गलती मान ली, 2 विदेशी नागरिकों ने अपनी गलती नहीं मानी.

निजामुद्दीन मरकज केस: 98 इंडोनेशियाई और किर्गिस्तान के 23 नागरिकों को साकेत कोर्ट से मिली राहत
फाइल फोटो

नई दिल्ली: निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) मामले में आज साकेत कोर्ट (Saket Court) में सुनवाई हुई. कोर्ट में आज किर्गिस्तान और इंडोनेशिया के नागरिकों की कोर्ट में पेशी हुई. सुनवाई के दौरान 98 इंडोनेशियाई नागरिकों और किर्गिस्तान के 23 नागरिकों ने अपनी गलती मानी. कोर्ट ने तबलीगी जमात के कुल 121 लोगों पर जुर्माना लगा कर इन्हें वीजा नियम और महामारी एक्ट नियम तोड़ने से राहत दी है.

98 इंडोनेशियाई नागरिकों पर कोर्ट ने 10 हजार का जुर्माना लगाया जबकि किर्गिस्तान के 23 नागरिकों को 5 हजार रुपए जुर्माने के तौर पर देने होंगे.  इन सभी नागरिकों को पीएम केयर फंड में जुर्माने की राशि जमा करनी है.

बता दें कि 100 इंडोनेशियाई नागरिकों की आज कोर्ट में पेशी थी. इनमें से जहां 98 विदेशी नागरिकों ने अपनी गलती मान ली, 2 विदेशी नागरिकों ने अपनी गलती नहीं मानी. अब इन पर ट्रायल चलेगा.  ये सभी विदेशी नागरिक निजामुद्दीन तबलीगी जमात में शामिल हुए थे जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने इनके खिलाफ चार्जशीट दायर की थी.

ये भी देखें-