close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पश्चिम बंगाल: NRC से लोगों में बढ़ा डर, BDO ऑफिस के बाहर लगी लंबी कतारें

ये भी लोग असम में NRC लागू होने के बाद अब घबराए हुए हैं.

पश्चिम बंगाल: NRC से लोगों में बढ़ा डर, BDO ऑफिस के बाहर लगी लंबी कतारें
बैरकपुर BDO ऑफिस के बाहर लंबी कतार देखी गई.

उत्तर दिनाजपुर: पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर की तरह अब उत्तर 24 परगना में भी एनआरसी (NRC) से चिंतित लोगों ने BDO ऑफिस के बाहर लम्बी कतार लगा दी जिससे कर्मचारियों की हालत ख़राब हो गई है. सुबह 6 बजे से की बैरकपुर BDO ऑफिस के बाहर लंबी कतार देखी गई. बहुत सारे लोग राशन कार्ड में सुधार करने की लाइन में लगे हुए हैं और यह सभी लोग असम में NRC लागू होने के बाद अब घबराए हुए हैं कि कही बंगाल में भी NRC अगर लागू हो गया तो यह लोग कहां जाएंगे.

इन लोगों को लगता है कि कहीं राशन कार्ड में गलती पाई गई तो इन्हें भी NRC के दायरे में आ जाना होगा और इसीलिए ताकि बाद में इन्हें अथवा इनके परिजनों को पछताना ना पड़े इसके चलते यह लोग इतने लम्बे समय से कतारों में खड़े हो रहे हैं. वहीं आम जनता में से एक ने यह भी कहा कि NRC लागु होना चाहिए क्योंकि भारत में कहे या पश्चिम बंगाल में पढ़े-लिखे लोगों को नौकरी नहीं मिल रही है.

पाकिस्तान और बांग्लादेश से लोग यहां पर आकर रह रहे हैं और आबादी बढ़ा रहे हैं. बैरकपुर ब्लॉक डेवेलोपमेंट ऑफिसर तुषार कांतिघोष ने बताया कि ये किसी अफवाह के चलते इतनी भीड़ जमा कर रहे हैं.

खाद्य साथी योजना के तहत यहां पर राशनकार्ड बनवाए जा रहे हैं और इनमें सुधार किया जा रहा है. APL राशन कार्ड होल्डर भी यहां पर जमा हुए हैं और अफवाहों के चलते यह चिंता भी कर रहे हैं कि कहीं NRC लागू न हो जाए.

NRC का आतंक अब उत्तर दिनाजपुर के चोपड़ा में रहने वालों के मन में घुस गया है. यहां के लोग अब वोटर लिस्ट, राशनकार्ड बनवाने और सुधर कराने में व्यस्त हो गए हैं. चोपड़ा ब्लॉक ऑफिस के खाद्य दफ्तर के बाहर आम जनता ने लम्बी लाइन लगा दी जिसे देख के यह पता चलता है कि यह लोग कितने चिंतित हैं.  

हमीदुर रहमान ने बताया कि इतने पुराने कागज़ कहां से लाएंगे ? हमारे बाप-दादा कहां पढ़े हैं. उनके बारे में हमें क्या मालूम. हमारे पास जो ज़मीन के कागज़ात हैं उसी को जमा करने आए हैं.