close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झुंझुनूं: पुलिस अधिकारियों को मिली हथियार चलाने की ट्रेनिंग, दिए गए निर्देश

शनिवार को इम मिटिंग(Crime Meeting) से पहले पुलिस लाइन(Police Line) में पुलिस अधिकारियों(Police Officers) को हथियार चलाने की ट्रेनिंग मिली.

झुंझुनूं: पुलिस अधिकारियों को मिली हथियार चलाने की ट्रेनिंग, दिए गए निर्देश
हथियारों की ट्रेनिंग लेते झुंझुनूं के पुलिस अधिकारी.

संदीप केडिया, झुंझुनूं: कई बार खबरें मिलती है कि पुलिस के पास हथियार थे. लेकिन वे चला नहीं सके और वारदात हो गई, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. झुंझुनूं एसपी गौरव यादव(Gaurav Yadav) ने हर पुलिसकर्मी को हथियार चलाने के लिए ट्रेनिंग देना शुरू कर दिया है. 

इसी क्रम में शनिवार को उन्होंने क्राइम मिटिंग(Crime Meeting) से पहले पुलिस लाइन(Police Line) में पुलिस अधिकारियों(Police Officers) को हथियार चलाने की ट्रेनिंग दिलवाई. साथ ही यह भी ताकिद किया गया कि वे अपने अपने थानों में यह तय कर लें कि हर एक पुलिसकर्मी को हथियार चलाने की ट्रेनिंग मिल गई है. 

एसपी गौरव यादव ने बताया कि कई बार कानून-व्यवस्था(Law and Order) को बनाए रखने और आपात स्थिति से निपटने के लिए हथियार और टीयर गैस आदि का उपयोग करना पड़ता है. ऐसे में समय-समय पर दी गई ट्रेनिंग पुलिसकर्मियों के काफी काम आती है.

इसके बाद मोरारका सभागार में हुई समीक्षा बैठक में एसपी गौरव यादव ने वर्षभर से पेंडिंग चल रहे सभी मामलों की फाइलें देखी और उनके निस्तारण के निर्देश दिए. इसके साथ-साथ पोक्सो और 376 के मामलों को लेकर भी जानकारी ली. निकाय चुनाव और सेना भर्ती के साथ-साथ कोर्ट के आने वाले संभावित परिणामों को लेकर भी चर्चा की गई. 

आम लोगों से करे संवाद
एसपी गौरव यादव ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए मुखबिर तंत्र को मजबूत करें और लोगों से संवाद कायम रखें. ताकि हर एक मूवमेंट पर पुलिस की नजर रह सके. 

इस मौके पर एएसपी नरेंद्र मीणा, सिटी डीएसपी लोकेंद्र दादरवाल, ग्रामीण डीएसपी नीलकमल, प्रशिक्षु आरपीएस विजेंता जाखड़, चिड़ावा डीएसपी आरपी शर्मा समेत सभी थानाधिकारी मौजूद थे. 

सर्दियों के समय चोरी रोकने के लिए निर्देश जारी
एसपी गौरव यादव ने मिटिंग में पुलिस अधिकारियों से कहा कि सर्दी के मौसम में चोरी की वारदातें ज्यादा होती है. इसलिए चोरियां हो ही ना और हो भी जाए तो उसका खुलासा तुरंत हो. इसके लिए पूरी कार्ययोजना बनानी पड़ेगी. 

अपराधियों की जन्मकुंडली करे तैयार
उन्होंने बताया कि इसके लिए सभी पुलिस अधिकारियों को आदतन अपराधियों की कुंडली तैयार करने के साथ-साथ उन पर नजर रखने और पनपने वाले नए गैंग पर भी नजर रखें. ताकि वारदात हो ही ना और हो तो तुरंत उसका खुलासा हो सके. उन्होंने बताया कि इसके अलावा हार्डकोर अपराधियों के साथ-साथ वांछित अपराधियों की धरपकड़ के लिए भी अभियान चलाने के निर्देश दिए गए हैं.

सीएलजी और शांति समिति की होगी बैठक
निकाय चुनाव, सेना भर्ती और कोर्ट के प्रस्तावित निर्णयों को देखते हुए एसपी गौरव यादव ने सभी थाना प्रभारियों को सीएलजी और शांति समिति की बैठकें करने के निर्देश दिए. 

उन्होंने कहा कि सभी थाना प्रभारी अपने अपने क्षेत्र के गणमान्य लोगों के संपर्क में रहे और किसी भी प्रकार की छोटी से छोटी सूचना को भी गंभीर मानते हुए उसके लिए आवश्यक कदम उठाएं. ताकि छोटी चीज बढ़े ही नहीं.