अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस पर ममता बनर्जी ने कहा- देश में लागू है 'सुपर इमरजेंसी'

ममता बनर्जी ने कहा, 'अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस के मौके पर हम एक बार फिर संवैधानिक मूल्यों की रक्षा का संकल्प लें.'

अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस पर ममता बनर्जी ने कहा- देश में लागू है 'सुपर इमरजेंसी'
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

कोलकोता:  पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस (International Day of Democracy) के मौके पर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि इस वक्त देश में 'सुपर इमरजेंसी' लागू है. ममता बनर्जी ने कहा कि संविधान द्वारा मिले अधिकारों और स्वतंत्रता की हमें रक्षा करनी चाहिए.

ममता बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, 'अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस के मौके पर हम एक बार फिर संवैधानिक मूल्यों की रक्षा का संकल्प लें. 'सुपर इमरजेंसी' के इस दौर में हमें उन अधिकारों और स्वतंत्रता की रक्षा करनी होगी जो कि संविधान ने हमें दिए हैं.'

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मोदी सरकार की आलोचक रही हैं. हाल ही में (28 अगस्त) ममता ने केंद्र पर 'एजेंसियों' का इस्तेमाल कर उनकी सरकार का गला घोंटने का आरोप लगाया था और कहा था कि अगर उन्हें जेल भी जाना पड़ा तो भी वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आगे नहीं झुकेंगी. 

ममता अपने कई राज्य मंत्रियों व पार्टी नेताओं को सीबीआई द्वारा समन दिए जाने का जिक्र करते हुए तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने दावा किया कि भाजपा बंगाल पर कब्जे की कोशिश कर रही है क्योंकि उनकी पार्टी उनके अत्याचारों का विरोध करती है व लड़ती है.

कोलकाता में एक छात्र रैली के दौरान ममता बनर्जी ने कहा, 'वे बंगाल पर कब्जा करना चाहते हैं क्योंकि हम विरोध करते हैं और उनके खिलाफ लड़ते हैं। हमारी आवाज को दबाया नहीं जा सकता। हमें मौत का डर नहीं है। हम एजेंसियों का डर नहीं है।'