close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उदयपुर में बढ़ रहा मौसमी बीमारियों का प्रकोप, अस्पतालों में लगी मरीजों की लंबी कतारें

मानसून बीतने के साथ ही प्रदेश में मौसमी बिमारियों का सिलसिला भी शुरु हो चुका है. कस्बे में मौसमी बिमारियों ने अपने पैर पसारने शुरु कर दिए.

उदयपुर में बढ़ रहा मौसमी बीमारियों का प्रकोप, अस्पतालों में लगी मरीजों की लंबी कतारें
प्रतीकात्मक तस्वीर

सुमित सिंह, उदयपुर: झाड़ोल कस्बे में मौसमी बिमारियों का प्रकोप देखने को मिल रहा है. कस्बे में डेंगू, मलेरिया और बुखार जैसी बीमारियां लोगों को अपना निशाना बना रही हैं. वहीं मौसमी बिमारियों की चपेट में आने से अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. लेकिन अस्पतालों में चिकित्सकों की कमी के चलते मरीजों को लंबी कतारों में खड़े होकर इंतजार करना पड़ रहा है.

मानसून बीतने के साथ ही प्रदेश में मौसमी बिमारियों का सिलसिला भी शुरु हो चुका है. कस्बे में मौसमी बिमारियों ने अपने पैर पसारने शुरु कर दिए. रोज बड़ी संख्या में मरीज अस्पताल और प्राथमिक स्वास्थय केंद इलाज के लिए पहुंच रहे हैं. जहां मरीजों की लंबी-लंबी कतारे देखने को मिल रही है. हालांकि, बड़ी संख्या में पंहुच रहे मरीजों के लिए स्वास्थय केंद्रों में ज्यादा बेहतर हालात नजर नहीं आ रहे हैं. डॉक्टरों की कमी के चलते मरीज यहां से वहां भटकने को मजबूर हैं.

हालांकि, स्वास्थय महकमा लगातार बढ़ रहे मरीजों को इलाज मुहैया कराने की हर संभव कोशिश करने का दावा कर रहा है. साथ ही मौसमी बीमारियों से बचाव के लिए भी लोगों को जागरुक करने की कोशिश की जा रही है. जिससे लगातार बढ़ रहे मौसमी बिमारियों के प्रकोप को कम किया जा सके.

जाहिर है हर साल इसी तरीके से मानसून के बाद मौसमी बीमारियों का प्रकोप लोगों पर पड़ता है. प्रशासन हर बार दावे करता है कि इन बीमारियों के प्रकोप से लोगों को राहत पंहुचाने की लेकिन सभी दावे हवा हवाई हो जाते हैं.