कॉकपिट में पायलट ने एयर होस्‍टेस से की छेड़छाड़, FIR दर्ज

नियम है कि अगर कॉकपिट से एक पायलट बाहर आता है तो उसके स्थान पर एयर होस्टेस को विमान उड़ा रहे पायलट की मदद के लिए कॉकपिट में रहना पड़ता है.

कॉकपिट में पायलट ने एयर होस्‍टेस से की छेड़छाड़, FIR दर्ज
- फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : एयर इंडिया की एक एयर होस्‍टेज ने अपनी ही एयरलाइंस के पायलट पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. मामला चार मई की रात का है. वाकया अहमदाबाद से मुंबई के बीच उड़ान के दौरान हुआ. मुंबई पहुंचने के बाद पीड़ित एयर होस्‍टेज ने सहार पुलिस स्‍टेशन में पायलट के खिलाफ शिकायत दर्ज करा दी. पीडि़त एयरहोस्‍टेज की शिकायत पर सहार पुलिस स्‍टेशन ने आईपीसी की धारा 354 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

अहमदाबाद से मुंबई के लिए रवाना हुए थे दोनो
सूत्रों के अनुसार पीड़ित एयर होस्‍टेस की ड्यूटी अहमदाबाद से मुंबई जाने वाली एयर इंडिया की फ्लाइट एआई-985 में थी. अहमदाबाद एयरपोर्ट से एयर इंडिया की इस फ्लाइट ने शाम करीब 7.30 बजे उड़ान भरी. उड़ान भरने के कुछ समय बाद कॉकपिट में मौजूद दो पायलट में एक पायलट वॉशरूम जाने के लिए बाहर आ गया. नियमानुसार एयर होस्टेस को कॉकपिट में मौजूद पायलट की मदद के लिए जाना पड़ा. इसी दौरान मौके का फायदा उठाकर पायलट ने एयर होस्टेस के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी.

अस्‍मत बचाने के लिए कॉकपिट से बाहर भागी एयर होस्‍टेज
नियमानुसार दूसरे पायलट के आने तक एयर होस्टेस कॉकपिट से बाहर नहीं आ सकती थी. एयर होस्टेस के दिमाग में यह भी था कि वह कॉकपिट से बाहर गई तो पायलट नियमों का हवाला देकर उसके खिलाफ ही मामला बना सकता है. लिहाजा, वह कॉकपिट के भीतर रहते हुए पायलट की हरकतों का पुरजोर विरोध करती रही और पायलट अपनी मनमानी करता रहा. दूसरे पायलट के आते ही एयर होस्टेस कॉकपिट से भागकर बाहर आ गई. बाहर आने के बाद उसने इस घटना की जानकारी फ्लाइट में मौजूद अन्‍य क्रू-मेंबर को दी.

मुंबई पहुंचते ही पायलट के खिलाफ दर्ज कराया मामला
मुंबई पहुंचने के बाद पीड़िता ने सबसे पहले इस घटना के बारे में एयर इंडिया के अधिकारियों को जानकारी दी. एयर इंडिया के अधिकारियों के समक्ष अपनी शिकायत दर्ज कराने के बाद एयर होस्टेस  रात करीब 10.30 बजे सहार पुलिस स्‍टेशन पहुंच गई. वहां उसने अपने साथ हुई छेड़खानी की दास्‍तां पुलिस कर्मियों के समक्ष रखी. जिसके बाद एयर होस्टेस ने लिखित शिकायत दी. जिस पर त्‍वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने पायलट के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 के तहत मामला दर्ज कर लिया.