बांसवाड़ा में नहीं हो रही पॉलीथिन बैन मुहिम की पालना, प्रशासन नदारद

मैदान की सारी जमीन पर प्लास्टिक बिखरा हुआ पड़ा है. पिछले दिनों यहा पर दशहरे मेले का आयोजन हुआ था जो 15 दिन तक चला था. 

बांसवाड़ा में नहीं हो रही पॉलीथिन बैन मुहिम की पालना, प्रशासन नदारद

बांसवाड़ा: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पूरे देश में स्वच्छता ओर पॉलीथिन मुक्ति का पाठ पढा रहे हैं लेकिन प्रधानमंत्री की यह मुहिम बांसवाडा शहर में आकर थम जाती है. जहां उनकी पार्टी का बोर्ड नगर परिषद में होने के 5 सालों में स्वच्छता की रैकिंग में बांसवाडा पिछड़ा ही रहा है. 

वहीं ऐसे मे वर्तमान बोर्ड के कार्यकाल का एम माह ही रह गया है फिर भी यह बोड सफाई को शहर मे नजर अंदाज कर रहा है. वहीं जहां एक ओर पुरे शहर में प्लास्टिक बंद करने के लिए पर्चे बांटें जा रहे हैं लेकिन खुद नगर परिषद परिसक के सामने स्थित कुशलबाग मेदान में ही पॉलीथिन का अंबार अटा हुआ है. 

मैदान की सारी जमीन पर प्लास्टिक बिखरा हुआ पड़ा है. पिछले दिनों यहा पर दशहरे मेले का आयोजन हुआ था जो 15 दिन तक चला था. इस मेले में भी प्रशासन और नगर परिषद ने प्लास्टिक के उपयोग पर बैन लगा दिया था पर मेला संवेदक ने इस बात पर ज्यादा गोर नहीं किया और मेले में खूब प्लास्टिक का उपायोग किया गया. 

जिसकी बानगी मेले के खत्म होने के बाद कुशलबाग मैदान में दिखाई दी. पूरा मैदान पॉलिथीन से भरा पड़ा है जिस कारण यहां पर पशु भी आ रहे हैं और प्लास्टिक निगल रहे हैं लेकिन नगर परिषद और मेला संयोजक की ओर से मैदान में साफ करने की सुध नहीं ली जा रही है. इस मैदान में स्कूल भी हैं और इतनी गंदगी से बच्चे और बड़े भी परेशान हो रहे हैं.