close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिजली चोरी पकड़ने गए विद्युत वितरण निगम के दल पर लोगों का हमला,दराती और फावड़े से वार

लोगों ने हमला कर कनिष्ठ अभियन्ता सहित तीन कर्मचारियों की जमकर पिटाई की और घायल कर दिया.इसके अलावा रामगढ़ के फीडर इंचार्ज  को एक कमरे में बंधक भी बना लिया गया और मारपीट कर कपड़े तक फाड़ दिए.

बिजली चोरी पकड़ने गए विद्युत वितरण निगम के दल पर लोगों का हमला,दराती और फावड़े से वार
विद्युत वितरण निगम के दल पर लोगों का हमला

जुगल किशोर,अलवर: बिजली चोरी पकड़ने के लिए गए विद्युत वितरण निगम(Power distribution corporation)के दो सतर्कता दलों लोगों ने हमला बोल दिया और जमकर मारपीट की .घटना राजगढ़ क्षेत्र के दौलतपुरा और थानाराजाजी गांव के सिंगल का बास के रणवीर नगर में हुई .बताया जा रहा है कि लोगों ने हमला कर कनिष्ठ अभियन्ता सहित तीन कर्मचारियों की जमकर पिटाई की और घायल कर दिया.इसके अलावा रामगढ़ के फीडर इंचार्ज संजय शर्मा को एक कमरे में बंधक भी बना लिया गया और मारपीट कर कपड़े तक फाड़ दिए.
पुलिस के मुताबिक रामगढ़ के फीडर इंचार्ज संजय शर्मा ने राजगढ़ थाने में मामला दर्ज कराया कि शनिवार को विद्युत वितरण निगम के अधीक्षण अभियन्ता के आदेश पर रामगढ़ के सहायक अभियन्ता नवीन कुमार गुप्ता व नौगांवा के कनिष्ठ अभियंता हेमन्त कुमार वर्मा कर्मचारियों के साथ राजगढ़ क्षेत्र में सतर्कता जांच में गए थे ये लोग थानाराजाजी गांव के सिंगल का बास के रणवीर नगर में राधा कृष्ण मीना के परिसर के पास सतर्कता जांच कर रहे थे.सतर्कता जांच में राधा कृष्ण मीना के परिसर में विद्युत चोरी मिली जिसके मौके पर फोटो लिए गए व चोरी में प्रयुक्त केबल को जब्त कर लिया गया उसी दौरान हरकेश मीना, दिलीप यादव अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए गाड़ी के पास आए और निगम के वाहन की चाबी छीनकर घर ले गए उसके बाद लाठी-डंडों से सतर्कता दल के सहायक अभियंता नवीन कुमार गुप्ता, कनिष्ठ अभियंता हेमंत कुमार वर्मा, फडर इंचार्ज रोहिताश चौधरी, मीटर रीडर घनश्याम सैनी से मारपीट शुरू कर दी इतना ही नहीं सहायक अभियंता को जबरदस्ती पकडक़र एक महिला के साथ वीडियो भी बनाया गया और फिर उन लोगों ने महिला के साथ छिनाझपटी का केस लगाने की धमकी दी झगड़ा ज्यादा होता देखकर सभी कर्मचारी मौके से जान बचाकर बिना गाड़ी के पैदल भाग गए इसके बाद उसे हरकेश मीना, सीताराम मीना, लल्लू मीना व अन्य व्यक्ति पकडक़र अपने घर ले गए तथा उन्हे एक कमरे में बंधक बना लिया और पीटना शुरू कर दिया आरोपियों ने कर्माचारियों के कपड़े फाडक़र उनका जबरदस्ती वीडियो बनाया और दुष्कर्म व जातिसूचक शब्द कहने का झूठा केस दर्ज करवाने की धमकी दी.
पुलिस के मुताबिक उनके ऊपर दराती और फावड़े से प्रहार किया गया और मोबाईल तोड़ दिया गया साथ ही वहां खड़ी गाड़ी से उनका सामान जब्त कर लिया जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उन्हे मुक्त करवाकर थाना राजगढ़ लेकर आई. पुलिस ने राज कार्य में बाधा, सरकारी सम्पत्ति को नुकसान सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.