राष्ट्रपति ने स्वीकारा अरविंद सावंत का इस्तीफा, अब बीजेपी के यह नेता संभालेंगे मंत्रालय

अब भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय का कार्यभार भी महाराष्ट्र से ही आने वाले नेता को सौंपा गया है.

राष्ट्रपति ने स्वीकारा अरविंद सावंत का इस्तीफा, अब बीजेपी के यह नेता संभालेंगे मंत्रालय
अरविंद सावंत ने 11 नवंबर को केंद्रीय मंत्रीपद से इस्तीफा दे दिया था.

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने केंद्रीय मंत्री और शिवसेना सांसद अरविंद सावंत का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है. अरविंद सावंत केंद्र सरकार में भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय में संभाल रहे थे. लेकिन महाराष्ट्र में जारी सियासी रस्साकशी के चलते उन्होंने सोमवार को केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था. अब भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय का कार्यभार भी महाराष्ट्र से ही आने वाले नेता को सौंपा गया है. केंद्र सरकार में सूचना प्रसारण और पर्यावरण व जलवायु परिवर्तन मंत्रालय का कार्यभार संभाल रहे प्रकाश जावड़ेकर को अब भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय की जिम्मेदारी भी दी गई है.

दरअसल सोमवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी ने राज्य विधानसभा चुनाव में दूसरी सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते शिवसेना को सरकार बनाने के लिए न्योता भेजा. हालांकि शिवसेना के पास बहुमत का आंकड़ा नहीं है लेकिन फिर भी उसे विश्वास था कि एनसीपी और कांग्रेस के विधायकों का समर्थन पत्र उन्हें मिल जाएगा. 

जानकारों की मानें तो कांग्रेस ने समर्थन से पहले यह शर्त रखी थी कि पहले शिवसेना एनडीए से बाहर आए फिर समर्थन पर बात होगी. इसीलिए शिवेसना ने अरविंद सावंत से इस्तीफे के लिए कहा. लेकिन शिवसेना का यह दांव गलत साबित हो गया और कांग्रेस ने समर्थन की चिट्ठी नहीं सौंपी. इसके बाद अब राज्यपाल ने एनसीपी को सरकार बनाने का न्योता दिया है.