close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को बताएं कि कश्मीर में क्या है हालात: अशोक गहलोत

अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की कि उन्हें देश के नाम संबोधित संबोधन देना चाहिए और बताना चाहिए जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाने के एक महीने बाद के हालात क्या है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को बताएं कि कश्मीर में क्या है हालात: अशोक गहलोत
असोक गहलोत ने कहा कि देश में लोकतंत्रिक मूल्यों को खत्म किया जा रहा है.

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाने के मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. अशोक गहलोत ने कहा कि देश में हर छोटी से छोटी बात पर बोलने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जम्मू कश्मीर की हालातों को लेकर चुप्पी क्यों साधे हुए हैं. अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की कि उन्हें देश के नाम संबोधित संबोधन देना चाहिए और बताना चाहिए जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाने के एक महीने बाद के हालात क्या है. आखिर क्यों हालात सामान्य नहीं हो पाए हैं. इसकी क्या वजह है कि दुनिया भर में धारा 370 के मुद्दे को लेकर प्रदर्शन किए जा रहे हैं और सिर्फ विदेशी मीडिया में इसे लेकर रिपोर्टिंग हो रही है.

स्पीकर ओम बिरला दिलाएं राजस्थान को उसका हक
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोटा में अतिवृष्टि की हालातों का जायजा लेने के बाद मीडिया से बातचीत में लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से भी एक विशेष आग्रह किया. उन्होंने कहा ओम बिरला कोटा में सक्रिय हैं. हालातों का निरीक्षण भी कर रहे हैं. लेकिन उन्हें पूरे राजस्थान के हालातों पर भी नजर रखनी चाहिए. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि ओम बिरला को राजस्थान के हिस्से की सहायता राशि केंद्र सरकार से दिलाने में मदद करनी चाहिए. वर्तमान में केंद्र सरकार से राजस्थान को सहयोग नहीं मिल पा रहा है और आने वाले दिनों में क्या हालात होंगे इसका भी कोई अंदाजा नहीं है.

दुष्यंत सिंह को क्यों नहीं बनाया गया मंत्री
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मीडिया से बातचीत में पांच बार के सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र दुष्यंत सिंह को लेकर भी चुटकी ली.अशोक गहलोत ने कहा कि जब कई नए मंत्रियों को केंद्र सरकार में मौका मिला तो फिर क्या वजह है कि 5 बार के सांसद को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिल पाई हाडोती को उसका प्रतिनिधित्व क्यों नहीं मिल पाया.

शांति धारीवाल को क्यों बिठा दिया घर
अशोक गहलोत ने कोटा में विकास कार्यों को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा की शांति धारीवाल के कार्यकाल में कोटा में विकास के नए आयाम स्थापित हुए. उन्होंने यहां विकास कार्यों की झड़ी लगा दी. लेकिन उसके बावजूद कोटा की जनता ने उन्हें घर बैठा दिया.

राजस्थान कांग्रेस में नहीं है टूट की कोई संभावना
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक सवाल के जवाब में कहा कि देश में लोकतंत्रिक मूल्यों को खत्म किया जा रहा है. सत्ता और धनबल के दुरुपयोग पर लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकारों को गिराने की कोशिश हो रही है. राजस्थान में कांग्रेस सरकार को किसी प्रकार के नुकसान के सवाल पर गहलोत ने कहा राजस्थान में कांग्रेस बहुत मजबूत है यहां के नेताओं ने कांग्रेस की नींव को बहुत मजबूत किया है. कांग्रेस में किसी भी प्रकार की टूट संभव नहीं अलबत्ता भाजपा में किसी प्रकार का विखंडन हो जाए इसकी कोई गारंटी नहीं है.