राजस्थान : कर्मचारी चयन बोर्ड की भर्तियों में फंसा पेंच

 कृषि पर्यवेक्षक, प्रयोगशाला सहायक और महिला सुपरवाइजर भर्ती की विज्ञप्ति निकले डेढ साल से ज्यादा का समय हो चुका है, लेकिन अभी तक ये भर्ती प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी है..

राजस्थान : कर्मचारी चयन बोर्ड की भर्तियों में फंसा पेंच
राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की भर्तियों का फंसा पेंच

जयपुर: राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से निकाली गई तीन सीधी भर्तियों का पेंच लगातार ही फंसता जा रहा है. कृषि पर्यवेक्षक, प्रयोगशाला सहायक और महिला सुपरवाइजर भर्ती की विज्ञप्ति निकले डेढ़ साल से ज्यादा का समय हो चुका है, लेकिन डेढ़ साल बीतने के बाद भी आज तक ये भर्ती प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी है.

3 महीने पहले ही हो चुका है दस्तावेज़ों का सत्यापन
जानकारी के अनुसार राजस्थान में करीब 1600 कृषि पर्यवेक्षक, करीब 1200 लैब असिस्टेंट और करीब 180 महिला सुपरवाइज़र्स की भर्ती करीब डेढ़ साल पहले निकाली गई थी. लेकिन  करीब एक दर्जन सवालों को लेकर मामला हाईकोर्ट पहुंचा,और उसके बाद से ही ये भर्ती अटकी पड़ी है. वहीं विभाग अभी तक हाईकोर्ट में अपना जवाब तक पेश नहीं कर पाया है. RSSB कई बार दोहरा चुका है,लेकिन डेढ़ साल बीतने के बाद भी आज तक ये भर्ती प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी है. दस्तावेज़ों का सत्यापन भी करीब 3 महीने पहले ही हो चुका है. जिसके चलते भर्ती से जुड़े हुए बेरोजगार लगातार मंत्रियों से लेकर अधिकारियों तक के चक्कर काट रहे हैं.

प्रयोगशाला सहायक भर्ती से जुड़े संजय कुमार के मुताबिक "बिना किसी कारण के भर्ती को बोर्ड की ओर से लम्बा खींचा जा रहा है,लैब असिस्टेंट भर्ती में किसी प्रकार का पेंच अटका हुआ नहीं है,लेकिन बोर्ड की ओर से इस पर भी कमेटी की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है.

चयनित बेरोजगारों को सरकार से उम्मीद-
दरअसल अब राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से निकाली गई, तीनों ही सीधी भर्तियों के करीब 10 हजार से ज्यादा चयनित बेरोजगार सरकार की ओर आस लगाए बैठे हैं, कि जल्द ही सरकार इन भर्तियों के पेंच को खत्म करते हुए बेरोजगारों को दिवाली का तोहफा देगी.