close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: आमेर में स्कूल टीचर के तबादले से छात्र नाराज, हाईवे पर लगाया जाम

Protest Against Transfer of School teacher: राजस्थान में स्कूल शिक्षकों के तबादले के बाद छात्रों के विरोध प्रदर्शन का सिलसिला थमता नहीं दिख रहा है.

जयपुर: आमेर में स्कूल टीचर के तबादले से छात्र नाराज, हाईवे पर लगाया जाम
सड़क पर प्रदर्शन करते स्कूली छात्र.

दामोदर प्रसाद, जयपुर: आमेर के कूकस गांव में सरकारी स्कूल के अध्यापक का ट्रांसफर रुकवाने की मांग को लेकर छात्र-छात्राओं प्रदर्शन किया. ट्रांसफर से नाराज छात्रों ने दिल्ली हाईवे पर जाम लगा अपना विरोध जाहिर किया. छात्रों की तरफ से जाम की वजह से हाइवे पर वाहनों की लंबी कतारे लग गई. 

वहीं, जानकारी मिलने पर आमेर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और छात्रों की समझाइश की कोशिश की. लेकिन छात्रों के नहीं मानने पर जबरदस्ती छात्रों को रास्ते से हटा दिया गया. वहीं छात्र अब मामले पर कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं

दरअसल आमेर के कूकस स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय के छात्र अपनी एक टीचर के तबादले से नाराज हैं. उनके दबादले को निरस्त करने की मांग वो लगातार शिक्षा विभाग से कर रहे हैं. जब किसी भी तरह का असर स्कूल और शिक्षा विभाग पर नहीं हुआ तो दिल्ली हाइवे पर जाम लगा दिया. बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं रोड़ पर बैठ गए.

छात्र छात्राओं की तरफ से सड़क पर जाम लगाने की वजह से हाइवे से गुजर रहे वाहन जंहा के तंहा फंस गए. दिल्ली हाइवे पर लंबी कतारे लग गई और काफी देर तक लोग एक जगह ही फंसे रहे. पुलिस को मामले की जानकारी हुई तो आमेर थाना पुलिस मौके पर पंहुची. पुलिस ने छात्रों को समझाने की कोशिश की लेकिन छात्र नहीं माने काफी देर तक समझाइश का दौर चलता रहा.

काफी समझाइश पर जब छात्र नहीं माने तो पुलिस ने अतिरिक्त जाब्ता मौके पर बुलाया और जबरदस्ती छात्रों को हाइवे से हटाया. पुलिस ने सभी छात्रों को उनकी कक्षाओं के लिए रवाना कर दिया और सभी छात्र स्कूल के लिए लौट गए. छात्रों के हटने के बाद हाइवे पर वाहनों के लिए रास्ते के लिए खोला गया

वहीं पुलिस से जब मामले की जानकारी मांगी गई तो कोई जानकारी नहीं दी गई यंहा तक की छात्र और स्कूल प्रशासन भी इस मामले में पत्रकारों से बचता हुआ नजर आया. बताया जा रहा है की पुलिस के किसी अधिकारी की तरफ से स्कूल और छात्रों को मीडिया को किसी भी जानकारी देने से इंकार किया गया है.

Sumit Singh, News Desk