close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पुणे: बाढ़ के हालात पर डिविजनल कमिश्नर ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

बाढ़ के हालात को लेकर कमिश्नर दीपक म्हैसकर ने बताया कि, पुणे से लगभग 1 लाख 40 हजार लोगों को स्थानांतरित किया गया है.

पुणे: बाढ़ के हालात पर डिविजनल कमिश्नर ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस
(फाइल फोटो)

पुणे/अश्विनी पवार: बाढ़ के हालात को लेकर पुणे डिविजनल कमिश्नर दीपक म्हैसकर ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. बाढ़ के हालात को लेकर कमिश्नर दीपक म्हैसकर ने बताया कि, पुणे से लगभग 1 लाख 40 हजार लोगों को स्थानांतरित किया गया है. पुणे विभाग में आने वाले कोल्हापूर और सांगली जिलो में बाढ़ कि गंभीर स्थिती बनी हुई है. अगले 3 दिन तक भारी बारिश की संभावना आयएमडी ने जताई है. ऐसे हालात में आपदा प्रबंधन अपने कार्य कर रही है. वहीं पुणे विभागीय आयुक्त ने स्पष्ट किया कि सांगली और कोल्हापूर में बाढ़ के हालात के लिए आलमट्टी बांध जिम्मेदार नही है. उन्होंने बताया कि, 2 लाख 56 हजार 755 नागरीकों की बिजली आपूर्ती बंद है. 

स्वास्थ विभाग, जवान कोल्हापूर, सांगली के बाढ़ प्रभावीत लोगों की मदद में जुटे हैं. कम समय में अधिक बारिश होने से सांगली में बाढ़ के हालात बन गए. आलमट्टी बांध सें 4 लाख क्युसेक्स पानी छोडा जा रहा है, अगर पानी का बहाव बढता है तो रायचूर में बाढ़ के हालात बनते है, हम उनके संपर्क में है.

पुणे विभाग में बाढ़ से अबतक 16 लोगों की मौत हुई है. पुणे जिले मे 4, सतारा जिले में 7, सांगली में 2, कोल्हापूर में 2 और सोलापूर में 1 व्यक्ति की मौत हो गई.