पुणे: किसानों की कर्जमाफी को लेकर शिवसैनिकों का हंगामा, बीमा कंपनी में की तोड़फोड़

शिवसेना शहर प्रमुख संजय मोरे ने चेताते हुए कहा कि ये तो एक शुरूआत भर है. अगर जल्‍द से जल्‍द किसानों को उनका पैसा नहीं मिला तो ये फिर पूरे राज्य में ऐसा होगा.

 पुणे: किसानों की कर्जमाफी को लेकर शिवसैनिकों का हंगामा, बीमा कंपनी में की तोड़फोड़
पुणे स्थित बीमा कंपनी के ऑफिस के अंदर तोड़फोड़ के बाद बिखरा सामान.

पुणेकोरेंगाव (Koregaon) इलाके मे बीमा कंपनी इफ्को टोक्यो (Iffco Tokio) के ऑफिस में शिवसैनिकों ने जमकर तोड़फोड़ की. शिवसैनिक बुधवार सुबह के वक्त ही ऑफिस में घुसे और वहां तोड़फोड़ शुरू कर दी. शिवसेना (Shiv Sena) के लोगों का कहना है कि बीमा कंपनियों से किसानोंं (Farmers) का पैसा जल्‍द से जल्‍द दिलाने के लिए यह तोड़फोड़ (Vandalizes) की गई है. उन्‍होंने बताया कि इससे पहले भी बीमा कंपनी से किसानों को जल्‍द राहत पहुंचाने का निवेदन दिया गया था. लेकिन जब कोई कार्रवाई नहींं हुई तो उन्‍हें ये कदम उठाना पड़ा.

शिवसेना शहर प्रमुख संजय मोरे ने चेताते हुए कहा कि ये तो एक शुरूआत भर है. अगर जल्‍द से जल्‍द किसानों को उनका पैसा नहीं मिला तो ये फिर पूरे राज्य में ऐसा होगा. हमने बार-बार कहा कि किसानों को उनके पैसे दो, उनके जीवन से खिलवाड़ मत करो. लेकिन जब कोई सुनवाई नहीं हुई तो हमने ऐसा किया.

वहीं, बीमा कंपनी इफ्को टोकियो का कहना है कि अब तक 10 लाख से ज्यादा किसानों का 549.08 करोड़ रुपयों का क्लेम सेटल हो चुका है. जिसमें 10 लाख 19 हजार 99 किसानों को पेमेंट मिला है. केवल 5-10 प्रतिशत क्लेम टेक्निकल कारणों की वजह से सेटल नहीं हो सके हैं. जल्द ही उन्हें भी क्लियर कर दिया जाएगा. उनका कहना है, इस मामले पर कंपनी के बड़े अधिकारी ही बात करेंगे.