Zee Rozgar Samachar

COVID-19: पंजाब में रात का कर्फ्यू और रविवार का Lockdown खत्‍म

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कोविड-19 के मद्देनजर लगाई गईं कई पाबंदियों में गुरुवार को ढील देने के आदेश दिए जिनमें रात का कर्फ्यू और रविवार का लॉकडाउन समाप्त करना शामिल हैं.

COVID-19: पंजाब में रात का कर्फ्यू और रविवार का Lockdown खत्‍म
फ़ाइल फोटो

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कोविड-19 के मद्देनजर लगाई गईं कई पाबंदियों में गुरुवार को ढील देने के आदेश दिए जिनमें रात का कर्फ्यू और रविवार का लॉकडाउन समाप्त करना शामिल हैं. यहां जारी एक आधिकारिक बयान के अनुसार मुख्यमंत्री ने जिन पाबंदियों ने ढील देने की घोषणा की है उनमें केन्द्र के दिशानिर्देश के अनुरूप राज्य में विवाह समारोहों तथा अंतिम सस्कार में 100 लोग तक शामिल होने, एक कार में केवल तीन ही लोग के यात्रा करने और बसों को 50 प्रतिशत क्षमता तक ही भरने जैसी पाबंदियों में ढील शामिल है.

सिंह ने पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता से कोरोना वायरस प्रोटाकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने और मास्क आदि लगाने जैसे अनिवार्य नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा, ‘कोई ढिलाई नहीं होनी चाहिए, खासतौर पर चावल खरीदारी की जारी प्रकिया के दौरान और आने वाले त्योहारों को देखते हुए.’

स्कूलों और शिक्षण संस्थानों को फिर से खोलने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि गृह सचिव और शिक्षा विभाग के बीच विचार-विमर्श के बाद इसपर अंतिम निर्णय की घोषणा की जाएगी. राज्य में संक्रमण की स्थिति की समीक्षा के लिए आयोजित ऑनलाइन बैठक के दौरान, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने ‘मामलों के घटने और इससे होने वाली मौतों में कमी आने’ की बात कही और कहा कि राज्य सरकार ने पूर्व में जो प्रतिबंध लगाए थे उनसे मदद मिली है.

सिंह ने मुख्य सचिव विनी महाजन को निर्देश दिया कि वह इस व्यवस्था पर ध्यान दें कि अन्य लोगों के साथ ही अस्पतालों से छुट्टी पा चुके गरीब रोगियों को विटामिन मिले. इससे पहले राज्य की विशेषज्ञ स्वास्थ्य समिति के प्रमुख के के तलवार ने कहा कि राज्य में संक्रमण दर 14 सितंबर को 10.85 प्रतिशत थी जो 28 सितंबर को घटकर 5.12 प्रतिशत हो गई.

(इनपुट- एजेंसी भाषा)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.