close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: बच्चा चोर समझकर गांववालों ने 2 लोगों को बनाया बंधक, बेरहमी से की पिटाई, मामला दर्ज

बाद में सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों युवकों को भीड़ से मुक्त करवा कर जिला अस्पताल पहुंचाया. 

राजस्थान: बच्चा चोर समझकर गांववालों ने 2 लोगों को बनाया बंधक, बेरहमी से की पिटाई, मामला दर्ज
सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों युवकों को भीड़ से छुड़ाया.

दिलशाद खान, भीलवाड़ा: जिले के आसीन्द थाना क्षेत्र के नारायणपुरा में रिश्तेदार पिता-पुत्र की मौत पर शोक जता कर गांव लौट रहे बठेड़ा के दो चचेरे भाइयों को भीड़ ने बच्चा चोर बताकर न केवल पीटा, बल्कि रस्सी से बांध कर उन्हें दो घंटे बंधक बनाकर रखा. गंभीर रूप से घायल युवकों को पुलिस ने भीड़तंत्र से छुड़ाकर जिला अस्पताल में भर्ती करवाया. जिसके बाद पीड़ित की रिपोर्ट पर पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.  

बठेड़ा निवासी दूदाराम पुत्र अंबालाल भील ने कहा कि उसकेी रिश्तेदार पिता-पुत्र की पिछले दिनों बनेड़ा थाना इलाके में जोगणिया माता जाते समय सड़क हादसे में मौत हो गई थी. इसके चलते वह अपने चचेरे भाई शंकर पुत्र भंवर भील के साथ रिश्तेदार की मौत पर शोक व्यक्त करते नारायणपुरा गए थे. वहां से वो शंकर के ससुराल कालियास चले गए. ससुराल वालों से मिलकर देर शाम वो बाइक से बंक्यारानी होते हुये पुनः गांव लौट रहे थे. तभी धोली गांव से गुजरने के दौरान पीछे से बाइक पर आए दो युवकों ने उन्हें रोका और बच्चा चोर बताते हुए मारपीट की. 

इसके बाद फोन कर कुछ और लोगों को गांव से बुलवा लिया गया. जमा भीड़ उन्हें गांव में ले गई. जहां भीड़ ने उसके कपड़े उतरवा कर उन्हें खम्बे से बांध दिया और करीब एक-दो घंटे बंधक बनाकर मारपीट की. भीड़ ने शंकर को भी पीटा. वो दोनों खुद को निर्दोष बताते हुए अपने गांव जाने की बात कहते रहे, लेकिन भीड़ ने उनकी एक न सुनीं और मारपीट करते रहे. 

बाद में सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों युवकों को भीड़ से मुक्त करवा कर जिला अस्पताल पहुंचाया. आसींद डिप्टी रोहित कुमार ने बताया कि पुलिस ने मारपीट के मामले में धोली निवासी मनफूल पिता शिवलाल जाट, ओमप्रकाश पिता लादुलाल जाट, लक्ष्मण पिता मगना जाट, शिवलाल पिता जमनालाल जाट और मुकेश पिता लक्ष्मण जाट को गिरफ्तार किया है. वहीं पुलिस ने घटना में शामिल अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के भी प्रयास शुरू कर दिए हैं. इसके अतिरिक्त पुलिस ने शिवलाल जाट की रिपोर्ट पर बच्चे का अपहरण का अलग से मुकदमा दर्ज कर मामले की गहनता से जांच शुरू की है.