close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर आर्ट गैलरी का किया गया आयोजन

इस केंद्र में महिलाएं, बालिकाएं अपनी किसी भी तरह की समस्याएं लेकर आ सकती हैं. यहां परामर्शदाता उनकी समस्याएं सुनकर उन्हें परामर्श देंगे. 

राजस्थान: अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर आर्ट गैलरी का किया गया आयोजन
इस केंद्र में महिलाएं, बालिकाएं अपनी किसी भी तरह की समस्याएं लेकर आ सकती हैं.

संदीप व्‍यास, बूंदी: अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की थीम प्रदर्शनी का आयोजन किया गया. गैलरी में एक दर्जन से ज्यादा पेंटिग के जरिए समाज के लिए बेटियों के महत्व को समझाया गया. जिससे आर्ट गैलरी में आने वाले लोगों को बेटी बचाने के नवाचार की पहल दिखाई दें.

आर्ट गैलरी का शुभारंभ जिला कलेक्टर रियार ने किया. इस मौके पर पुलिस अधीक्षक ममता गुप्ता सहित कई अधिकारी मौजूद रहे. जिला कलेक्टर ने इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए इसे एक सराहनीय पहल बताया और कहा कि इसके जरिए बेटी बचाने का संकल्प लोगों को याद आएगा. इसके साथ ही जिला कलेक्टर ने थाने में या कहीं पर भी बेटियों की समस्याओं को प्राथमिकता से लेने पर जोर दिया.

इसके बाद अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर जिला कलेक्टर रुकमणी रियार ने जिला अस्पताल परिसर में स्थित पुराना जनाना अस्पताल भवन में वन स्टॉप सेंटर सखी को जिले की महिलाओं को समर्पित किया. इस केंद्र में महिलाएं, बालिकाएं अपनी किसी भी तरह की समस्याएं लेकर आ सकती हैं. यहां परामर्शदाता उनकी समस्याएं सुनकर उन्हें परामर्श देंगे. समस्या के अनुसार महिला को चिकित्सकीय विधिक अथवा आवश्यकतानुसार अन्य सहायता अथवा आश्रय देने की भी व्यवस्था यहां की गई है.

एक छत के नीचे महिलाओं की समस्याओं के समाधान की पहल केंद्र सरकार की योजना से बूंदी जिले में शुरु की गई है. इसके जरिए महिलाओं को संबल देने की कोशिश की गई है. इसके साथ ही महिलाओं से किसी भी तरह की समस्या होने पर बेहिचक यंहा आने का आह्वान किया गया है.