close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: अशोक गहलोत ने आर्थिक मंदी को लेकर उद्योग विभाग के साथ की बैठक, कहा...

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक ली. बैठक में वर्तमान अर्थव्यवस्था के हालातों को देखते हुए लीक से हटकर अतिरिक्त प्रयत्नों की आवश्यकता जताई गई.

राजस्थान: अशोक गहलोत ने आर्थिक मंदी को लेकर उद्योग विभाग के साथ की बैठक, कहा...
अशोक गहलोत ने को उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक ली.

जयपुर: सीएम अशोक गहलोत ने उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक ली. इस बैठक में मदी से पार पाने को लेकर चर्चा की गई ...साथ ही बैठक में सीएम ने उद्योगों को आगे बढ़ाने के लिए अधिकारियों को तमाम दिशा-निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक ली. बैठक में वर्तमान अर्थव्यवस्था के हालातों को देखते हुए लीक से हटकर अतिरिक्त प्रयत्नों की आवश्यकता जताई गई. बैठक में कपड़ा उद्योग, स्टील और ऑटोमोबाइल सेक्टर में छाई मंदी से पार पाने के लिए उपबंध करने के निर्देश उद्योग विभाग के अधिकारियों को दिए गए. बैठक में उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा ने औद्योगिक इकाइयों को सस्ती बिजली मुहैया कराने का सुझाव दिया.

 

बैठक में सीएम गहलोत ने कहा कि आर्थिक मंदी के इस दौर में हमें सोचना चाहिए कि सरकार लीक से हटकर क्या कर सकती है और उद्योगों को कैसे सहारा दिया जा सकता है. उन्होंने कपड़ा उद्योग, स्टील और ऑटोमोबाइल सेक्टर में छाई मंदी को देखते हुए इन क्षेत्रों को तुरंत राहत देने की जरूरत पर बल दिया और कहा कि इन क्षेत्रों में पहले से स्थापित इकाईयों को प्रोत्साहन पैकेज दिया जाए ताकि वे आगे बढ़ सकें और लोगों के रोजगार पर खतरा पैदा न हो.

सीएम ने औद्योगिक दृष्टि से पिछडे जिलों में उद्योगों को बढ़ावा देने और युवाओं के लिए रोजगार सृजित करने पर जोर दिया. सीएम ने कहा कि इन जिलों में निवेश की संभावनाएं टटोली जाएं और कोई उद्यमी यहां अपना व्यापार स्थापित करना चाहे तो उसे राज्य सरकार की ओर से विशेष छूट देकर प्रोत्साहित किया जाए.

सीएम ने राजस्थान माइक्रो, स्मॉल एण्ड मीडियम एंटरप्राइजेज एक्ट का लाभ एमएसएमई उद्यमियों तक सही ढ़ंग से पहुंचाने के लिए इसके व्यापक प्रचार-प्रसार पर भी जोर दिया। बैठक में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त, प्रमुख शासन सचिव एमएसएमई, प्रमुख शासन सचिव राजस्व, आयुक्त उद्योग और प्रबंध निदेशक रीको समेत तमाम अधिकारी मौजूद  रहे.

(इनपुट-सुशांत पारीक, अंकित तिवाड़ी)