close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: निकाय चुनाव के लिए BJP ने फॉर्मेट किया सेट, स्थानीय युवाओं को मिलेगी तरजीह

बीजेपी ने स्थानीय निकाय चुनावों की तैयारियों को रफ्तार दे दी है. इस बार के चुनावों में अनुभवी चेहरों के मुकाबले पार्टी फ्रेश चेहरों के साथ लोगों के बीच जाएगी. 

राजस्थान: निकाय चुनाव के लिए BJP ने फॉर्मेट किया सेट, स्थानीय युवाओं को मिलेगी तरजीह
31 अक्टूबर और 1 नवम्बर को चर्चा के बाद पार्टी एक नवम्बर की रात तक अपने सभी प्रत्याशी तय कर लेगी.

जयपुर: निकाय चुनाव में इस बार भारतीय जनता पार्टी अनुभवी के मुकाबले नए चेहरों को तरजीह देगी. इसके साथ ही प्रत्याशी चयन के लिए भी पार्टी ने फॉर्मूला तय करते हुए वार्ड के मूल निवासी और स्थायी निवासी होने की अनिवार्यता को लागू किया है. बीजेपी के प्रदेश मुख्यालय पर हुई प्रदेश चुनाव संचालन समिति की पहली बैठक में पार्टी ने अपने पैरामीट्रर्स तय किए. इसके साथ ही बीजेपी नेताओं ने निकाय चुनाव के संभावित मुद्दों और सरकार के खिलाफ जारी की जाने वाली चार्जशीट पर भी चर्चा की. बीजेपी एक नवम्बर तक सभी वार्डों में अपने प्रत्याशियों के नाम तय कर लेगी.

बीजेपी ने स्थानीय निकाय चुनावों की तैयारियों को रफ्तार दे दी है. इस बार के चुनावों में अनुभवी चेहरों के मुकाबले पार्टी फ्रेश चेहरों के साथ लोगों के बीच जाएगी. पूनिया ने कहा कि इस बार नए चेहरों को ज्यादा तरजीह दी जाएगी. इसके साथ ही बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने प्रत्याशी तय किए जाने के पैरामीटर्स पर जानकारी देते हुए बताया कि 2100 वार्ड में होने वाले चुनाव में वार्ड के मूल निवासी और स्थायी निवासी को ही टिकिट दिया जाएगा.

पार्टी ने चुनाव संचालन के लिए 11 सदस्यों की एक कमेटी भी बनाई है. इस कमेटी में प्रदेशाध्यक्ष और प्रदेश संगठन महामन्त्री के साथ ही नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया, उपनेता राजेन्द्र राठौड़, दो पूर्व अध्यक्षों के रूप में अशोक परनामी और अरुण चतुर्वेदी, दो केन्द्रीय मन्त्रियों के रूप में अर्जुनराम मेघवाल और गजेन्द्र सिंह को शामिल किया गया है. इसके साथ ही प्रदेश महामन्त्री बीरमदेव सिंह और ओंकार सिंह लखावत संगठन के प्रतिनिधि के रूप में शामिल किया है तो सांसद जसकौर मीणा को भी कमेटी सदस्य बनाया है. 

पूनिया ने बताया कि 31 अक्टूबर को दोपहर दो बजे प्रदेश बीजेपी मुख्यालय पर एक बड़ी बैठक बुलाई है. जिसमें स्थानीय निकाय क्षेत्रों और जिलों की टीम को भी संभावित नामों की लिस्ट लेकर बुलाया है. प्रत्याशी चयन का काम भी तीन स्तर पर चर्चा के बाद होगा. इसके लिए निकाय स्तर पर एक कमेटी बनाई है तो ज़िला स्तर और प्रदेश स्तर की भी एक-एक कमेटी बनाई है. 31 अक्टूबर और 1 नवम्बर को चर्चा के बाद पार्टी एक नवम्बर की रात तक अपने सभी प्रत्याशी तय कर लेगी. 

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष ने जीत का दावा करने के साथ ही कहा कि उनकी पार्टी की तैयारियां पुख्ता है. पूनिया ने कहा कि जनता ने बीजेपी पर पहले भी भरोसा जताया है. उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र में लोगों की पसंद और कार्यकर्ता की ताकत के दम पर स्थानीय निकायों में एक बार फिर बीजेपी अच्छी संख्या में जीत दर्ज करेगी.