close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: नए मोटर व्हीकल एक्ट को लेकर लगातार हो रहा विरोध, खाचरियावास ने कहा...

राजस्थान में मोटर व्हीकल एक्ट के जरिए जुर्माना गुजरात सरकार से भी कम किया जाएगा. परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास का कहना है कि सेंट्रल, व्हीकल एक्ट पर देश की जनता की गर्दन काट रहा. 

राजस्थान: नए मोटर व्हीकल एक्ट को लेकर लगातार हो रहा विरोध, खाचरियावास ने कहा...
मोटर व्हीकल एक्ट पर डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने भी केंद्र सरकार पर सवाल उठाए.

जयपुर: केंद्र सरकार द्धारा लागू किए गए मोटर व्हीकल एक्ट पर कई राज्यों में घमासान मचा हुआ है. इसी घमासान के बीच गुजरात की बीजेपी सरकार ने केंद्र सरकार के इस एक्ट को लागू नहीं किया है. जिसके बाद अब राजस्थान सरकार फ्रंटफुट पर आ गई है. 

राजस्थान में मोटर व्हीकल एक्ट के जरिए जुर्माना गुजरात सरकार से भी कम किया जाएगा. परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास का कहना है कि सेंट्रल, व्हीकल एक्ट पर देश की जनता की गर्दन काट रहा. उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि आपकी बीजेपी सरकार ने सेंट्रल व्हीकल एक्ट लागू करने से इंकार कर दिया इसलिए पहले बीजेपी सरकार आपस में तय कर ले कि व्हीकल एक्ट लागू करना भी है या नहीं.

परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरिवास ने कहा कि, केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी ने कहा था कि सभी राज्यों को ये फैसला मानना होगा, लेकिन अब तो हर जगह विरोध हो रहा है इसलिए केंद्र सरकार व्हीकल एक्ट को वापस लें. मोटर व्हीकल एक्ट पर डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने भी केंद्र सरकार पर सवाल उठाए. उनका कहना है कि ये एक्ट आम जनता के लिए फायदेमंद कम, नुकसानदेय ज्यादा साबित हो रहा है. इस पर केंद्र को पुनविचार करना चाहिए. 

केंद्र सरकार द्धारा लागू किए गए मोटर व्हीकल एक्ट को लेकर केंद्र और राज्यों के बीच मतभेद सामने आने लगे हैं. ऐसे में अब क्या केंद्र सरकार इस एक्ट को लेकर पुनविचार करेगी. यहां आपको बता दें कि देशभर में नए मोटर व्हीकल एक्ट को लागू किए जाने के बाद से ही कई लोगों के 23 हजार तक के चालान काटे जा चुके हैं. जिसके चलते कई लोग इस एक्ट के लागू होने से नाराज हैं. हालांकि, कई लोग इस एक्ट को सपोर्ट कर रहे हैं.