close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: SMS अस्पताल में भामाशाह कार्ड होने के बाद भी डॉक्टर ने मरीज से मांगे पैसे, देखें VIDEO

भ्रष्टाचार को रोकने के लिए सरकार ने नियम बनाकर व्यवस्था कर दी कि इम्पलांट बाहर से नहीं आएंगे लेकिन इस वीडियो में सामने आया कि इम्पलांट बाहर से मंगवाया गया. 

राजस्थान: SMS अस्पताल में भामाशाह कार्ड होने के बाद भी डॉक्टर ने मरीज से मांगे पैसे, देखें VIDEO

जयपुर: प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल SMS का एक वीडियो सामने आया है. जिसमें एसएमएस अस्पताल सेकंड ईयर डॉ. नविन्दु एक मरीज के परिजनों से उलझते हुए दिखाई दे रहे हैं. वीडियो में दोनों के बीच एक मरीज के पैर में डाली गई रॉड के पैसों को लेकर विवाद हो रहा हैं.

तैश में आकर डॉक्टर बोल रहा है कि पैसे नहीं दिए तो पैर में पड़ी रॉड निकाल दूंगा. मरीज के साथ पहुंचा एक व्यक्ती भामाशाह से फ्रैक्चर पैर में प्लेट डालने की बात कह रहा है लेकिन डॉक्टर साफ कर रहा है कि वो प्लेट भामाशाह से नहीं आती है. वीडियो में डॉक्टर बोल रहा है कि क्योंकि बाहर की दुकान से जो इम्प्लांट खरीदा गया उनका पेमेंट नहीं हुआ इसलिए दूसरे मरीजों को वो इम्प्लांट दे नहीं रहा. लेकिन पूरे मामले में सवाल ये है कि SMS अस्पताल के आर्थो विभाग में इम्प्लांट के नाम पर होने वाले भ्रष्टाचार को रोकने के लिए सरकार ने नियम बनाकर व्यवस्था कर दी कि इम्पलांट बाहर से नहीं आएंगे लेकिन इस वीडियो में सामने आया कि इम्पलांट बाहर से मंगवाया गया. 

मरीज का भामाशाह कार्ड था फिर भी उसकी जेब ढीली हुई. वहीं मामले में आर्थो विभाग यूनिट हेड का कहना है कि मरीज का भामाशाह कार्ड था लेकिन वो तुरंत ऑपरेशन चाहता था इसलिए बाहर से रॉड मंगवाकर ऑपरेशन किया गया. वंही इस मामले में SMS अस्पताल अधीक्षक ने जांच के आदेश दिए हैं.