राजस्थान: फसल खराब होने के बाद किसानों का प्रदर्शन, CM के नाम भेजी टिड्डियों से भरी टोकरी

किसानों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए टिड्डियों से भरी टोकरियां मुख्यमंत्री और कृषि मंत्री के नाम उपखंड अधिकारी और कृषि सहायक निदेशक को भेंट की. 

राजस्थान: फसल खराब होने के बाद किसानों का प्रदर्शन, CM के नाम भेजी टिड्डियों से भरी टोकरी
नाराज किसानों ने ज्ञापन सौंपते हुए टिड्डियों से भरी टोकरी भी एसडीएम को दी.

त्रिभुवन रंगा, बीकानेर: छतरगढ़ क्षेत्र में फैले विशाल टिड्डी दल से हो रही फसलों के नुकसान के विरोध में बुधवार को किसानों ने अनोखा प्रदर्शन करते हुए टिड्डी भरी टोकरिया मुख्यमंत्री, कृषि मंत्री और विधायक के नाम एसडीएम को सौंपी. किसानों ने आरोप लगाया कि कृषि नियंत्रण दल किसी भी तरह से किसानों की सुध नहीं ले रहा है.

किसानों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए टिड्डियों से भरी टोकरियां मुख्यमंत्री और कृषि मंत्री के नाम उपखंड अधिकारी और कृषि सहायक निदेशक को भेंट की. वहीं आरोप लगाया कि नियंत्रक दल किसानों की कोई सुनवाई नहीं कर रहा है. इससे गुस्साए किसानों ने बुधवार को छतरगढ़ तहसील के एसडीएम कार्यलय के आगे जिला प्रसाशन के खिलाफ नारेबाजी करके विरोध प्रदर्शन किया और केमिकल सेंटर को नजदीक खुलवाने और निशुल्क केमिकल उपलब्ध करवाने की मांग कर ज्ञापन सौंपा. 

इस दौरान बड़ी संख्या में किसान मौजुद रहे. प्रदर्शन कर रहे किसानों का कहना है कि छतरगढ़ तहसील में टिड्डी दल आ गया है और कोई भी गांव इससे वंचित नहीं है. सीमावर्ती क्षेत्र के कोलायत, दियातरा, भाणसर, किशनपुरा से लेकर 200 किलोमीटर तक टीडी दल फैली हुई है. 

जिससे किसानों की खड़ी फसलें चोपट हो रही हैं लेकिन जिला प्रशासन और नियंत्रक दल इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है. वहीं प्रसाशन ने जो केमिकल उपलब्ध करवाया है वो कामगार नहीं है जबकि प्रसाशन उस केमिकल के नाम पर किसानों से 760 रुपये वसूल रहे हैं. 

वहीं जहां केमिकल की जरूरत है वहां से करीब 60 किलोमीटर दूर सेंटर बना रखा है. जहां जाने के लिए कोई सांसाधन नहीं है. इसलिए किसनों की माग है कि अच्छी क्वालिटी का केमिकल दिया जाए और सेंटर को गांव के नजदीक खोला जाए और जिन किसानों की फसल चौपट हुई है उनको मुआवजा तथा केमिकल निशुल्क उपलब्ध करवाया जाए जिससे किसानों को राहत मिल सके.