close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: निकाय चुनाव से पहले किसानों को मिला तोहफा, लोन के लिए जारी हुए 600 करोड़

चुनाव से पहले एक बार फिर से सरकार ने किसानों को साधना शुरू कर दिया है. खरीफ फसली ऋण के लिए सरकार ने 600 करोड जारी करने का फैसला लिया.

राजस्थान: निकाय चुनाव से पहले किसानों को मिला तोहफा, लोन के लिए जारी हुए 600 करोड़
सरकार ने अपैक्स बैंक को 600 करोड रूपए जारी कर दिए.

जयपुर: निकाय चुनाव से पहले राज्य सरकार ने किसानों को बडी राहत दी है.सरकार ने चुनाव से ठीक पहले फसली ऋण के लिए 600 करोड जारी कर दिए है.जिसके बाद अब अपैक्स बैंक ने हाथों-हाथ सीसीबी को 29 करोड रूपए जारी कर दिए है.किसानों के खातों में अब तक 30 सितंबर तक ऋण का पैसा जमा हो जाएगा.

चुनाव से पहले एक बार फिर से सरकार ने किसानों को साधना शुरू कर दिया है. खरीफ फसली ऋण में वित्तीय संकट से परेशान सहकारिता विभाग को बिना देर किए सरकार ने 600 करोड़ जारी करने का फैसला लिया. मुख्यमंत्री की हरी झंडी के बाद एक दिन बाद ही अपैक्स बैंक को 600 करोड रूपए जारी कर दिए.

अब इस बजट को अपैक्स ने 29 सीसीबी को ट्रांफर्मर कर किसानों के खातों में पैसा डालना शुरू कर दिया है.लंबे वक्त के पैसों की कमी के चलते अटका फसली ऋण वितरण ने एक बार फिर से रफ्तार पकड ली है.30 सिंतबर तक राजस्थान के तमाम किसानों के खातों में ऋण का पैसा पहुंच जाएगा.

राजस्थान में 21 लाख 22 हजार 753 किसान आवेदन कर चुके है. इनमें से 14 लाख 84 हजार 917 किसानों के खातों में पैसा पहुंच चुका है. अब बाकी के 6 लाख 37 हजार 836 किसानों के खातों में महज 4 दिन में ऋण का पैसा पहुंचेगा. निकाय चुनाव से ठीक पहले सरकार ने ऋण का बजट जारी कर एक बार फिर से किसानों को बडी राहत देने की कोशिश की है.

अब तक राजस्थान में 3109 करोड रूपए का ऋण वितरण हो चुका है.ऐसे में चुनाव से पहले सरकार सभी किसानों को ऋण वितरण के साथ साथ निकाय चुनाव में सियासी जमीन भी तलाशने की कोशिश करेगी. इसके साथ साथ सरकार नाबार्ड से भी पुर्नवित्त की कोशिश की जा रही है. वहीं, संभवतय अब 1 अक्टूबर से रबी का फसली ऋण की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी.