close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जोधपुर: दिल्ली में वकीलों के साथ हुई मारपीट का राजस्थान में विरोध, अदालत नहीं पहुंचे अधिवक्ता

दिल्ली में वकीलों के साथ मारपीट की घटना के विरोध में राजस्थान हाईकोर्ट मुख्य पीठ और अधीनस्थ न्यायालय में वकीलों ने स्वैच्छिक न्यायिक कार्यों का बहिष्कार किया. 

जोधपुर: दिल्ली में वकीलों के साथ हुई मारपीट का राजस्थान में विरोध, अदालत नहीं पहुंचे अधिवक्ता
कार्रवाई नहीं होने पर अधिवक्ता उग्र आंदोलन करने के लिए भी तैयार हैं.

भवानी भाटी, जोधपुर: दिल्ली में वकीलों के साथ मारपीट की घटना के विरोध में राजस्थान हाईकोर्ट मुख्य पीठ और अधीनस्थ न्यायालय में वकीलों ने स्वैच्छिक न्यायिक कार्यों का बहिष्कार किया. अदालतों में अधिवक्ताओं ने उपस्थिति नहीं दी. इसके साथ ही दोषी पुलिस अधिकारियों और कार्मिकों को 24 घंटे में बर्खास्त करने की मांग रखी.

दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में अधिवक्ताओं और पुलिस के बीच कार पार्किंग के मामूली विवाद के बाद पुलिस द्वारा अधिवक्ताओं की पिटाई की गई. वहीं झड़प के दौरान एक वकील को गोली लग जाने के मामले को लेकर देशभर के अधिवक्ताओं में कड़ा रोष है. राजस्थान हाईकोर्ट मुख्यपीठ जोधपुर में सोमवार को अधिवक्ताओं ने स्वैच्छिक न्यायिक कार्यों का बहिष्कार किया. इस दौरान अधिवक्ताओं ने हाईकोर्ट, अधीनस्थ न्यायालयों में उपस्थिति नहीं दी. इससे अदालतों में न्यायिक कार्य भी बाधित हुए. 

राजस्थान हाईकोर्ट एडवोकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष रणजीत जोशी ने बताया कि दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में हुए हादसे के बाद अधिवक्ता समाज में इस घटना का कड़ा विरोध है. उन्होंने कहा कि कानून के रखवाले द्वारा कानून को हाथ में लेकर जिस तरह से यह बर्बरता की गई है, वह निंदनीय है. साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार से निवेदन किया कि इस मामले में दोषी पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए. उन्होंने केंद्र सरकार से अधिवक्ता प्रोटक्शन एक्ट की मांग की.

अध्यक्ष रणजीत जोशी ने कहा कि अधिवक्ताओं ने आज एक दिन की टोकन हड़ताल कर विरोध दर्ज करवाया. साथ ही इस मामले में 24 घंटे में आरोपी दोषी पुलिस अधिकारियों और कार्मिकों को बर्खास्त करने की मांग की. कार्रवाई नहीं होने पर अधिवक्ता उग्र आंदोलन करने के लिए भी तैयार हैं.

पीछे नहीं हटेंगे अधिवक्ता
गौरतलब है कि जोधपुर सहित सीकर और गंगानगर एडवोकेट एसोसिएशन भी एक दिन की टोकन हड़ताल की घोषणा कर चुके हैं. एसोसिएशन के पदाधिकारी प्रहलाद सिंह भाटी ने बताया कि अधिवक्ता समाज पर हुए हमले से अधिवक्ताओं में कड़ा रोष है. हाईकोर्ट लॉयर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनील जोशी ने कहा कि अधिवक्ता इस लड़ाई में पीछे नहीं हटेंगे. सरकार को जल्द आए जल्द मामले में दोषियों के खिलाफ खड़ा एक्शन लेकर संघर्ष को विराम देना चाहिए.