close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: दहेज की मांग पूरी न होने पर ससुराल पक्ष ने की विवाहिता की हत्या, मामला दर्ज

शादी के बाद उसकी पुत्री मीरा अपने ससुराल ईशवाना चली गई तथा पिंकी का गौण नहीं किया था. शादी के बाद ससुराल वाले कम दहेज की बात कह कर उसे शारीरिक और मानसिक यातना देने लगे. 

राजस्थान: दहेज की मांग पूरी न होने पर ससुराल पक्ष ने की विवाहिता की हत्या, मामला दर्ज

अलवर: जयपुर के अलवर के राजगढ़ में दहेज की मांग पूरी नहीं करने पर, विवाहिता की हत्या करने का मामला राजगढ़ थाने में दर्ज हुआ है. ससुराल पक्ष के आरोपियों के विरुद्ध दहेज हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने बताया कि बिघोता गांव निवासी जगदीश ने राजगढ़ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसकी दो पुत्री मीरा और पिंकी का विवाह ईशवाना गांव के जलधारी के पुत्र कालू और अमित के साथ मई 2017 में हुई थी. 

शादी के बाद उसकी पुत्री मीरा अपने ससुराल ईशवाना चली गई तथा पिंकी का गौण नहीं किया था. शादी के बाद ससुराल वाले कम दहेज की बात कह कर उसे शारीरिक और मानसिक यातना देने लगे. इस पर कई बार उसने ससुराल पक्ष से समझाईश का प्रयास किया. शादी में परिवार ने अपनी हैसियत से अधिक दान दहेज दिया था. अब मेरी हैसियत नहीं है आपकी दहेज की मांग पूरा कर सकूं. 

इसके बाद भी मीरा के साथ आए दिन मारपीट करते रहे. दहेज में दो लाख रुपये और कार की मांग करने लगे. मंगलवार रात को करीब 3 बजे उसे सूचना मिली कि उसकी पुत्री मीरा को ससुराल वालों ने दहेज की मांग के चलते मार कर कुएं में डाल दिया. इस पर वह 25 सितंबर को सुबह 5 बजे राजगढ़ पुलिस के साथ ईशवाना गांव पहुंचा. 

ससुराल जन ने रात को ही मीरा का दाह संस्कार भी कर दिया. उसे सूचना दिए बिना ही उसकी पुत्री मीरा का अंतिम संस्कार कर दिया. पुलिस ने दहेज हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. थानाधिकारी राजगढ़ अजय यादव ने बताया कि परिवार वालों ने उन्होंने थाने पर आकर बताया कि मेरी बच्ची मीरा की सोना का बास में शादी की थी. जिसे मार कर कुएं में डाल दिया है. जिसके बाद पुलिस ने तुरंत रिपोर्ट लिखकर मामले में कार्रवाई शुरू कर दी हैं.

--संजय यादव, न्यूज डेस्क