close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: रेलवे प्रशासन की पहल, अब बिना लाइन में लगे ही यात्री ले सकेंगे ट्रेन की टिकट

रेलवे प्रशासन ने बताया कि मुसाफिरों को इसके लिए अपने मोबाइल में प्ले स्टोर पर जाकर यूटीएस ऑन मोबाइल (UTS on Mobile) एप डाउनलोड करना होगा. 

राजस्थान: रेलवे प्रशासन की पहल, अब बिना लाइन में लगे ही यात्री ले सकेंगे ट्रेन की टिकट
फाइल फोटो

दामोदर प्रसाद, जयपुर: रेलवे स्टेशनों पर जनरल टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट लेने के लिए लाइनों में लगने की समस्या से छुटकारा मिलेगा. अब ट्रेन की सामान्य श्रेणी यानि जनरल कोच में यात्रा करने वाले मुसाफिर बिना लाइन में लगे आसानी से टिकट ले सकेंग. इसके लिए रेलवे प्रशासन ने क्यूआर कोड की नई शुरुआत की है. 

जिसके तहत उत्तर पश्चिम रेलवे के जयपुर स्टेशन सहित 12 रेलवे स्टेशनों पर अनरिजर्व्ड टिकटिंग सिस्टम यानी यूटीएस ऑन मोबाइल सेवा में क्यूआर कोड की सुविधा को जोड़ दिया है. रेलवे अधिकारी ने बताया कि यूटीएस ऑन मोबाइल सेवा में क्यूआर कोड से आप स्टेशन के अंदर पहुंचकर बिना लाइन में लगे पेपरलैस और पेपर टिकट ले सकेंगे. इसके लिए यात्रियों को रेलवे स्टेशन पर लगे क्यूआर कोड को एप पर स्कैन करना होगा. 

जिसके बाद उनके रजिस्टर्ड नंबर पर टिकट नंबर आ जाएगा. यह प्रक्रिया जनरल और प्लेटफॉर्म कैटेगिरी के दोनों टिकटों के लिए लागू होगी. अभी तक पेपरलैस टिकट ऑप्शन में अगर कोई ट्रेन का जनरल टिकट बुक करता है, तो यह स्टेशन से 5 किलोमीटर दूर तक बुक होता है. वहीं प्लेटफॉर्म टिकट के लिए यह दूरी 2 किलोमीटर है लेकिन अगर कोई स्टेशन के 30 मीटर रेडियस के अंदर पहुंच जाता है, तो पेपरलैस टिकट बुक नहीं होता था.  

रेलवे प्रशासन ने बताया कि मुसाफिरों को इसके लिए अपने मोबाइल में प्ले स्टोर पर जाकर यूटीएस ऑन मोबाइल (UTS on Mobile) एप डाउनलोड करना होगा. यह ऐप एंड्रॉइड और आईओएस दोनों प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होगा. ऐप में मौजूद आर-वॉलेट को रिचार्ज करके पेमेंट हो सकेगा. मोबाइल पर आए मैसेज से ही यात्रा कर सकेंगे, पेपर टिकट लेने की जरूरत नहीं रहेगी. 

ट्रेन में टीटीई के द्वारा टिकट मांगने पर शो टिकट ऑप्शन में जाकर टिकट दिखा सकते हैं. रेलवे का मोबाइल ऐप स्मार्ट फोन में उपलब्ध होगा. इसके लिए जीपीएस इनबिल्ट होना चाहिए. यह सुविधा यात्रियों को जयपुर, गांधीनगर, दुर्गापुरा, सांगानेर, आबूरोड, अजमेर, उदयपुर, अलवर, रेवाडी, बीकानेर, लालगढ और जोधपुर स्टेशन पर मिलेगी. इसके लिए रेलवे प्रशासन ने यात्रियों के भार को देखते हुए यात्रियों की सुविधा के लिए नई पहल की है.