close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झुंझुनूं: प्रतिमा विसर्जन करने जा रहे लोगों पर मधुमक्खियों ने किया हमला, 5 दर्जन से ज्यादा घायल

Attack of Honey Bee in Jhunjhunu:  झुंझुनूं के गुजरवास में मंगलवार को उस वक्त भगदड़ मच गई. जब मां दुर्गा की शोभायात्रा में शामिल श्रद्धालुओं पर मधुमक्खियों ने हमला बोल दिया. 

झुंझुनूं: प्रतिमा विसर्जन करने जा रहे लोगों पर मधुमक्खियों ने किया हमला, 5 दर्जन से ज्यादा घायल
घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है.

संदीप केडिया, झुंझुनूं: झुंझुनूं(Jhunjhunu) के गुजरवास में मंगलवार को उस वक्त भगदड़ मच गई. जब मां दुर्गा की शोभायात्रा(Goddess Durga Procession) में शामिल श्रद्धालुओं पर मधुमक्खियों(Honey Bee) ने हमला बोल दिया. 

दरअसल गुजरवास गांव में मां दुर्गा का महोत्सव आयोजित किया गया था. जिसके समापन पर मंगलवार को मां दुर्गा की प्रतिमा के साथ श्रद्धालु(Devotees) विसर्जन के लिए शोभायात्रा के रूप में जा रहे थे. नाचते-गाते श्रद्धालु जा रहे थे कि रीको एरिया के पास पहुंचते ही एक पेड़ पर लगे मधुमक्खी का छत्ता आकर डीजे पर गिर गया. दरअसल शोभायात्रा में डीजे तेज आवाज में था. जिसके कारण यह छत्ता टूटकर डीजे पर गिरा और फिर मधुमक्खियों ने शोभायात्रा में शामिल श्रद्धालुओं पर हमला बोल दिया. अचानक मधुमक्खियों के हमले से भगदड़ मच गई. 

बताया जा रहा है कि मधुमक्खियों के डंक लगने के कारण करीब पांच दर्जन श्रद्धालु अस्पताल में पहुंचे. इनमें बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे. सभी को सिंघाना के निजी और सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया. घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है. 

डीजे को लेकर बना रहता है हमेशा विवाद
आज जिस डीजे की तेज आवाज को लेकर मधुमक्खियों का छत्ता टूटा और करीब पांच दर्जन श्रद्धालु घायल हुए. उस डीजे और आवाज को लेकर पहले भी कई बार विवाद बना रहा है. डीजे की तेज आवाज में तो लोगों की जान तक चली गई है. बावजूद इसके डीजे पर पाबंदी या फिर उसकी आवाज पर नियंत्रण को लेकर प्रशासन और पुलिस कोई कदम नहीं उठा रहे है. ध्वनि प्रदुषण के नाम पर भी छोटे मोटे वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई कर पुलिस इतिश्री कर लेती है. 

मधुमक्खी कब आक्रामक हो जाए, पता नहीं
झुंझुनूं जिले की बात करें तो इससे पहले कई बार मधुमक्खियों के हमले हुए है. लेकिन अकसर दाह संस्कार के वक्त मुक्ति धाम में ऐसे मामले ज्यादा सामने आते है. शोभायात्रा में इस तरह का हमला, संभवतया पहली बार ही सामने आया है. लेकिन इस हमले के पीछे भी कारण था कि मधुमक्खियों का छत्ता ही टूटकर डीजे पर गिर गया. जिसके कारण मधुमक्खियां अपने आदतन आक्रोशित मुद्रा में आ गई और श्रद्धालुओं को अपनी चपेट में ले लिया.