जयपुर: चुनाव से पहले शहर में सियासत तेज, मेयर और डिप्टी मेयर के बीच जारी जंग

जयपुर नगर निगम में विकास कार्य और बीजेपी के सरोकार पर दोनों के बीच जुबानी जंग जारी है.

जयपुर: चुनाव से पहले शहर में सियासत तेज, मेयर और डिप्टी मेयर के बीच जारी जंग
शहरी सरकार की राजनीति उबाल पर है. (फाइल फोटो)

जयपुर: प्रदेश में निकाय चुनावों (Civic Elections Rajasthan) से पहले शहरी सरकार की राजनीति उबाल पर है. चुनावों से पहले राजधानी जयपुर में मेयर विष्णु लाटा और डिप्टी मेयर मनोज भारद्धाज आमने-सामने नजर आ रहे है. इस दौरान जयपुर नगर निगम में विकास कार्य और बीजेपी के सरोकार पर दोनों के बीच जुबानी जंग जारी है.

बीजेपी पार्षदों के वार्डों में विकास कार्यो में भेदभाव करने का आरोप लगाने के बाद मेयर विष्णु लाटा नें डिप्टी मेयर मनोज भारद्धाज और बीजेपी पार्षदों को आड़े हाथों लिया हैं.

लाटा ने लगाया यह आरोप
विष्णु लाटा ने बयान दिया है कि जब से नगर निगम में कांग्रेस का बोर्ड बना है. तब से आज तक बीजेपी पार्षद एक भी मीटिंग में शामिल नहीं हुए. उन्होंने कहा कि वे किस डेवलपमेंट की बात करते हैं. चारदिवारी की गंदी गलियों के लिए कांग्रेस से सफाई कर्मी लगाए जिसका बीजेपी नें विरोध किया. दरअसल डिप्टी मेयर नें विष्णु लाटा और कांग्रेस बोर्ड पर भेदभाव करने का आरोप लगाया था.

विकास कार्य से नहीं है सरोकार
डिप्टी मेयर मनोज भारद्धाज के बयान के बाद में मेयर विष्णु लाटा ने आरोप लगाया है कि नगर निगम में कांग्रेस का बोर्ड बनने के बाद बीजेपी एक भी मीटिंग में शामिल नहीं हुई  हैं. बीजेपी पार्षदों को विकास कार्यों से कोई सरोकार नहीं हैं ऐसे में बीजेपी किस बात के विकास कार्यों की बात करती है.

आरक्षण की प्रक्रिया हो चुकी है पूरी
आपको बता दें कि प्रदेश मे निकाय चुनाव के लिए लॉटरी के माध्यम से आरक्षण की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. इसके बाद चुनाव पर पूरे प्रदेश में राजनीति तेज है. विधानसभा और लोकसभा चुनाव के बाद प्रदेश में निकाय चुनाव होने जा रहे हैं. इसके अलावा अगले साल पूरे प्रदेश में पंचायत चुनाव भी होने जा रहे हैं.