close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: गाड़ी पार्किंग को लेकर NSUI प्रदेशाध्यक्ष और पुलिस के बीच हुई कहासुनी

मौके पर मौजूद पुलिस ने वीआईपी रूट होने का हवाला देते हुए गाड़ी को हटाने की बात कही. जिस पर अभिमन्यू पूनिया और पुलिस के बीच तीखी नोकझोक हो गई. 

राजस्थान: गाड़ी पार्किंग को लेकर NSUI प्रदेशाध्यक्ष और पुलिस के बीच हुई कहासुनी
मौके पर मौजूद पुलिस ने वीआईपी रूट होने का हवाला देते हुए गाड़ी को हटाने की बात कही.

जयपुर: सिविल लाइन्स क्षेत्र में भारी हंगामा देखने को मिला. जब एनएसयूआई के प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यू पूनिया अपने साथियों के साथ ही बीच सड़क पर धरने पर बैठ गए. करीब आधा घंटे तक चले इस ड्रामे के बीच सिविल लाइन क्षेत्र में जाम के हालात बन गए. गौरतलब है कि सुबह-सुबह एनएसयूआई प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यू पूनिया अपने साथियों के साथ शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा से मिलने पहुंचे और आवास के बाहर ही गाड़ी खड़ी कर दी.

मौके पर मौजूद पुलिस ने वीआईपी रूट होने का हवाला देते हुए गाड़ी को हटाने की बात कही. जिस पर अभिमन्यू पूनिया और पुलिस के बीच तीखी नोकझोक हो गई. ये नोकझोक इतनी बढ़ गई कि विवाद गाली-गलौच तक पहुंच गई. बीच सड़क पर धरने पर बैठे अभिमन्यू पूनिया ने आरोप लगाया कि दो मिनट के बाद जब मंत्री से मिलकर बाहर आए तो पुलिसकर्मियों ने गाड़ी की बात को लेकर दुर्व्यवहार किया.

साथ ही गाली गलौच की. जबकि पुलिसकर्मियों का कहना था कि वीआईपी रुट होने की वजह से सड़क के बीच में गाड़ी नहीं हो सकती लेकिन जब गाड़ी हटाने की बात कही तो एनएसयूआई प्रदेशाध्यक्ष द्वारा पुलिसकर्मियों के साथ दुर्व्यवहार किया गया. साथ ही गाली-गलौच भी की गई. हालांकि, करीब आधे घंटे चले इस ड्रामे के बाद पुलिस ने समझाइश कर मामला शांत करवाया लेकिन अभिमन्यू पूनिया पुलिकर्मियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर अड़े रहे.