close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: गैस सिलेंडर न मिलने से परेशान लोग, रोज घंटों लाइन में लगने को मजबूर

सिलेंडर वाले अच्छे दिन चले गए है. वंही रसोई गैस ब्लैक करने वालो की चांदी बनी हुई है लेकिन स्थानीय प्रशासन इस समस्या की और कोई ध्यान नहीं दे रहा है.

राजस्थान: गैस सिलेंडर न मिलने से परेशान लोग, रोज घंटों लाइन में लगने को मजबूर
उपभोक्ताओं को घंटों लाइन में लगने के बाद भी खाली हाथ लौटना पड़ रहा है.

रावतसर: शहर में आम उपभोक्ता को रसोई गैस सिलेंडर के लिए इधर उधर भटकना पड़ रहा. अब आम आदमी को घंटो लंबी लाइन में खड़े रह कर सिलेंडर भरवाना पड़ रहा है. सिलेंडर वाले अच्छे दिन चले गए है. वंही रसोई गैस ब्लैक करने वालो की चांदी बनी हुई है लेकिन स्थानीय प्रशासन इस समस्या की और कोई ध्यान नहीं दे रहा है.

आपको बता दें कि रावतसर कस्बे में पिछले एक महीने से उपभोक्ताओं को गैंस सिलेंडर नहीं मिलने से भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. आम उपभोक्ताओं को गैंस सिलेंडर लिए इधर उधर भटना पड़ता है. इसके बाद घंटों लाइन में लगकर सिलेंडर प्राप्त करना पड़ रहा है. 

वहीं कुछ उपभोक्ताओं को घंटो लाईने में लगने के बाद भी खाली हाथ ही निराशा के साथ लौटना पड़ता है. अगली सुबह होते ही उपभोक्ता खाली गैंस सिलेंडर लेकर सबसे पहले सिलेंडर लेने की मन में कर गलियों में इधर उधर भटकता है और गैंस सिलेंडर वितरण के टेम्पों को खोजता है. फिर सिलेंडर वितरकों द्वारा वही जवाब मिलता है कि आज खत्म हो गए कल मिलेगा. 

यही रवैया पिछले एक माह से चल रहा है. वहीं दूसरी ओर गैंस सिलेंडर की ब्लैक करने वालों की चांदी बनी हुई है. ब्लैक में सिलेंडर देने वालों के पास से कभी भी सिलेंडर प्राप्त किया जा सकता है परन्तु इस ओर प्रशासन को कोई ध्यान नहीं जा रहा है.