close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: अवैध शराब के खिलाफ लगातार अभियान चला रही पुलिस, अब तक 553 प्रकरण किए दर्ज

पुलिस विभाग के आंकड़ो पर नजर डालें तो पुलिस ने सितम्बर माह तक अवेध शराब तस्करी और बेचने के 553 प्रकरण दर्ज करते हुए 563 अभीयुक्तो को गिरफ्तार किया है.

राजस्थान: अवैध शराब के खिलाफ लगातार अभियान चला रही पुलिस, अब तक 553 प्रकरण किए दर्ज
प्रतीकात्मक तस्वीर

अखिलेश शर्मा, डूंगरपुर: पुलिस का अवैध शराब तस्करी के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान ने शराब तस्करों के मंसूबो पर पानी फेर दिया है. हरियाणा से चलकर राजस्थान के विभिन्न थानों को पार करते हुए गुजरात में शराब तस्करी करने वाले शराब तस्करों की नैया राजस्थान-गुजरात सीमा के अंतिम जिले डूंगरपुर में आकर डूब रही है. अभियान के तहत डूंगरपुर जिले में हुई कार्रवाई इसी ओर इशारा कर रही है. 

राजस्थान-गुजरात के सीमावर्ती डूंगरपुर जिले से गुजरात की ओर बढ़ती शराब तस्करी को रोकने के लिए डूंगरपुर पुलिस ने अवैध शराब तस्करी के खिलाफ एक अभियान चला रखा है. पुलिस द्वारा चलाए गए इस अभियान ने पिछले 9 माह में काफी सफलताएं हासिल करते हुए शराब तस्करी पर लगाम लगाई है. पुलिस विभाग के आंकड़ो पर नजर डालें तो पुलिस ने सितम्बर माह तक अवेध शराब तस्करी और बेचने के 553 प्रकरण दर्ज करते हुए 563 अभीयुक्तो को गिरफ्तार किया है. अभियान के तहत हुई कार्रवाई में पुलिस ने अवैध शराब तस्करी करते 46 वाहनों को जब्त करते हुए 2 हजार 523 अवैध शराब के कार्टन जब्त किए. एसपी डूंगरपुर जय यादव के अनुसार जब्त की गई शराब की कीमत डेढ़ करोड़ रुपये है.

इतना ही नहीं एसपी यादव का कहना है कि डूंगरपुर जिले से गुजरात की और होने वाली शराब तस्करी को रोकने के पुलिस के प्रयास निरंतर जारी हैं. वहीं उन्होंने बताया कि फरार चल रहे शराब तस्करों के खिलाफ भी पुलिस की ओर से सख्त कदम उठाये जायेंगे. एसपी यादव ने बताया कि शराब तस्करी पर और सख्त कार्रवाई के लिए मुखबिर तंत्र को भी मजबूत किया जा रहा है. 

इधर डूंगरपुर पुलिस द्वारा चलाए जा रहे इस अभियान से जहां शराब तस्करों की कमर टूटी है तो वहीं इसका फायदा जिले के आबकारी विभाग को हुआ है. जिले में अवैध शराब तस्करी पर लगाम लगाने का ही नतीजा है जिसके चलते आबकारी विभाग के राजस्व में बढ़ोतरी हुई है. बहराल डूंगरपुर पुलिस के शराब तस्करी को रोकने के लिए किए जा रहे प्रयास काबिले तारीफ़ हैं और ऐसे ही प्रयास उन जिलों की पुलिस को भी करने की जरुरत है जिन जिलों से गुजरकर ये अवैध शराब गुजरात पहुंच