close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: सचिवालय कर्मचारी लेटलतीफी की आदत से नहीं आ रहे बाज, हो सकती है कार्रवाई

कर्मचारियों की लेटलतीफी की मिल रही शिकायतों के बाद प्रशासनिक सुधार विभाग की टीम की ओर से दो दिन में तीसरी बार सचिवालय कर्मचारियों की मौजूदगी का औचक निरीक्षण किया गया.

जयपुर: सचिवालय कर्मचारी लेटलतीफी की आदत से नहीं आ रहे बाज, हो सकती है कार्रवाई
राजधानी जयपुर स्थित सचिवालय. (फोटो साभार:rajgov.nic.in)

जयपुर: राजधानी जयपुर(Jaipur) के प्रदेश सचिवालय(State Secreteriat) में कर्मचारी अपनी लेटलतीफी की आदत से बाज नहीं आ रहे हैं. कर्मचारियों की लेटलतीफी की मिल रही शिकायतों के बाद प्रशासनिक सुधार विभाग की टीम की ओर से दो दिन में तीसरी बार सचिवालय कर्मचारियों की मौजूदगी का औचक निरीक्षण किया गया. जिसमें भी लगातार कर्मचारियों की गैरहाजिरी जारी रही. प्रशासनिक सुधार विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जब तक कर्मचारी आदत में सुधार नहीं कर लेते यह निरीक्षण जारी रहेगा. मंगलवार को भी 30 प्रतिशत कर्मचारी गैरहाजिर रहे.

सचिवालय में मंगलवार सुबह जब प्रशासनिक सुधार विभाग की टीम ने कर्मचारियों के हाजिरी रजिस्टर जब्त करना शुरू किया तो कर्मचारियों में हड़कंप मंच गया. कर्मचारियों को कार्रवाई की सूचना मिली तो कर्मचारी जल्दी से ऑफिस पहुंचना शुरू हो गए. हालांकि टीम ने हाजिरी रजिस्टर जब्त कर उनकी अनुपस्थिति देखी तो यह 30 प्रतिशत रही. सोमवार को 71 प्रतिशत कर्मचारी गैरहाजिर रहे थे. लेकिन अभी भी 30 प्रतिशत कर्मचारी गैर हाजिर मिले. शाम को भी टीम को कर्मचारियों के जल्दी घर जाने की सूचना मिली तो टीम ने एक बार फिर कार्रवाई शुरू कर दी. जिससे कई कर्मचारी रास्ते से लौटते नजर आए. 

प्रशासनिक सुधार विभाग की ओर से दो दिन में तीसरी कार्रवाई के बाद कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है. कई कर्मचारियों ने कार्रवाई को सही बताया और कहा कि इस तरह की कार्रवाई जारी रहनी चाहिए. 

प्रमुख सचिव आर वेंकटेश्वरन ने कहा कि यह रूटिन कार्रवाई है. कर्मचारियों की मिल रही शिकायतों के बाद यह कार्रवाई की गई है. इसे आगे भी जारी रखेंगे. इसके साथ ही सभी अधिकारियों को भी इस तरह की कार्रवाई के लिए लिखा गया है. 

प्रशासनिक सुधार विभाग के अतिरिक्त सचिव अनिल चतुर्वेदी के निर्देशन में लगातार कार्रवाई जारी है. चतुर्वेदी ने कहा कि कर्मचारियों की वस्तुस्थिति देखने के लिए यह कार्रवाई की गई है. आज भी बड़ी संख्या में कर्मचारी नदारद मिले हैं. सोमवार को भी गजेटेड और नॉन गजेटेड अधिकारी बड़ी संख्या में नदारद मिले थे. सबकी रिपोर्ट तैयार कर संबंधित अधिकारियों को भिजवा दी गई है. 

हालांकि कर्मचारियों का कहना है कि सरकार अनुशासन बनाए रखना चाहती है तो हाजिरी के लिए पंच मशीन लगाकर क्यों भूल गई. सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से कर्मचारियों की हाजिरी को लेकर गेटों पर मशीनें लगाई थी, लेकिन आज सब धूल फांक रही है.