close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: प्रिंसिपल को हटाने को लेकर धरने पर छात्र, स्कूल के गेट पर ताला लटका किया प्रदर्शन

छात्रों और ग्रामीणों का आरोप है कि स्कूल प्रिंसिपल की हठधर्मिता और मनमर्जी से परेशान होकर शिक्षिका ममता यहां से चली गई जबकि ग्रामीण प्रिंसिपल को हटाने की मांग कर रहे थे.

राजस्थान: प्रिंसिपल को हटाने को लेकर धरने पर छात्र, स्कूल के गेट पर ताला लटका किया प्रदर्शन

भवानी भाटी, जोधपुर: लूणी के मोगड़ा स्थित सेठ जवाहर रामसुख उच्च माध्यमिक विद्यालय के छात्रों ने स्कूल प्रिंसिपल को हटाने और स्कूल की शिक्षिका ममता पालीवाल का तबादला निरस्त करने की मांग को लेकर विद्यायल पर ताला जड़ दिया और जमकर विरोध प्रदर्शन किया. 

छात्रों और ग्रामीणों का आरोप है कि स्कूल प्रिंसिपल की हठधर्मिता और मनमर्जी से परेशान होकर शिक्षिका ममता यहां से चली गई जबकि ग्रामीण प्रिंसिपल को हटाने की मांग कर रहे थे लेकिन उसका तबादला नहीं हुआ. छात्रों ने बताया कि एक साल से लगातार संस्था प्रधान किरण वर्मा स्टाफ और छात्राओं को प्रताड़ित कर रही है. व्याख्याता ममता पालीवाल को परेशान करने का भी आरोप लगाते व्याख्याता का तबादला निरस्त करने और प्रिंसिपल को हटाने की मांग दोहराई. 

छात्रों ने बताया कि प्रशासन ने उनकी मांगे नहीं मानी तो हम मुख्य गेट पर धरना प्रदर्शन जारी रखेंगे. ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि 1 साल से विद्यालय में किसी प्रकार की व्यवस्था अनुशासन नहीं है, जबकि स्कूल की संस्था प्रधान लड़कियों के साथ जबरदस्ती प्रताड़ित कर रही हैं. स्कूल अध्यापिका अंजली माथुर और ममता पालीवाल का कहना है कि सरकारी कार्यालय मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी आरटीई ट्रेनिंग के द्वारा ड्यूटी होने पर भी संस्था प्रधान ने नोटिस जारी कर सैलरी काट दी. 

विद्यालय स्टाफ ने बताया कि संस्था प्रधान अपनी मनमर्जी से विद्यार्थियों और स्टाफ को आए दिन प्रताड़ित कर रही है. ग्रामीण और विद्यार्थियों की मांग है कि संस्था प्रधान को तुरंत हटाया जाए. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत करने का आश्वासन दिया. साथ ही शिक्षा अधिकारी प्रेम चंद सांखला ने बताया कि प्रिंसिपल की लगातार शिकायत मिली है. इस संबंध में उचित कार्रवाई करेंगे. वहीं शिक्षिका का तबादला निरस्त करने पर छात्रों की भावना को ध्यान में रखते हुए उचित नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.