close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: सफारी कार में अचानक लगी आग, चालक ने कूदकर बचायी जान

कार में आग लगने की अधिकतर घटनाएं तब सामने आती है जब वायरिंग आपस में चिपक जाती है. कार कई बार गर्म हो जाती है जिसकी वजह से वायरिंग चिपकने लगती है

राजस्थान: सफारी कार में अचानक लगी आग, चालक ने कूदकर बचायी जान
दमकल कर्मियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया.

जयपुर: बस्सी इलाके में आज एक टाटा सफारी कार में अचानक आग लग गयी. 1 दमकल की सहायता से आग पर काबू पाया गया. कार चालक प्रहलाद ने बताया कि वो घर से जा रहा था इस दौरान आग से धूंआ निकलन लगा और अचानक कार के बोनट में आग लग गयी. 

वहीं, चालक इस दौरान चलती कार से कूद गया जिसके चलते आग की चपेट में आने से बच गया. वहीं, कार कच्चे रास्ते से नीचे उतर गयी और धू-धू कर जलने लगी. इस दौरान दमकल को सूचना दी गयी. दमकल कर्मियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया. माना जा रहा है कि शॉर्ट सर्किट होने की वजह से कार में आग लगी है.

क्यों लग जाती है कार में आग
कार में आग लगने की अधिकतर घटनाएं तब सामने आती है जब वायरिंग आपस में चिपक जाती है. कार कई बार गर्म हो जाती है जिसकी वजह से वायरिंग चिपकने लगती है और उससे शॉर्ट सर्किट हो जाता है.  कार में गलत ढंग से एलपीजी या फिर सीएनजी की लोकल किट भी आग लगने का सबसे बड़ा कारण होता है. गैस लीक होने से भी हादसा हो जाता है. एक्सपर्ट का कहना है कि मकैनिक और इलैक्ट्रिशियन से संपर्क के बाद ही किट लगवानी चाहिए. लोकल के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए.

कैसे रोके कार में आग लगने से
कार को हर महीने में एक बार जांच जरुर करवाना चाहिए  अगर कार में गैस किट या फिर सीएनजी किट लगा हो तो उसकी भी समय समय पर जांच करवाते रहे, जिससे की लीकेज या फिर किसी तरह की कनेक्शन में होने वाली गलती को तुरंत सुधारा जा सके. यदि कार में से जलने की बदबू आ रही है तो तुरंत मिस्त्री से संपर्क करें, जरा भी लापरवाही न बरते. कोई भी वायरिंग का तार नंगा नहीं रहने दें, यदि कहीं से तार नंगा है तो उस पर टेप लगवाए, क्योंकि जरा सी चिंगारी पकड़कर ही कार में आग लग जाएगी.