close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: क्रेडिट कार्ड बनाने के नाम पर युवक ने की लाखों की ठगी, जांच में जुटी पुलिस

तीसरा मामला अजमेर के रामगंज थाने से जुड़ा है. जहां उसी आरोपी अमित उर्फ गोपाल राठी ने सोमलपुर के रहने वाले ताज उल इस्लाम का क्रेडिट कार्ड बनाया और फिर ऐप डाउनलोड करने के बहाने 84,000 का ट्रांजैक्शन कर लिया. 

राजस्थान: क्रेडिट कार्ड बनाने के नाम पर युवक ने की लाखों की ठगी, जांच में जुटी पुलिस
एलआईसी ऑफिस के नजदीक रहने वाले विजय कुमार शर्मा के साथ भी इसी तरह की वारदात को अंजाम दिया गया.

अशोक सिंह भाटी, अजमेर: राजस्थान के अजमेर में क्रेडिट कार्ड बनाना लोगों के लिए भारी पड़ रहा है. क्रेडिट कार्ड बनाने वाले फर्जी एजेंट द्वारा एक दो नहीं तीन से अधिक लाखों की धोखाधड़ी के मामले अलग-अलग थानों में दर्ज कराए गए हैं. जहां पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है.

पहला मामला अजमेर के सुभाष नगर नारीशाला के नजदीक रहने वाले सुरेश चंद का है. उन्होंने बताया कि इंडसइंड बैंक का क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए अमित राठी नाम का युवक उनके पास आया और उसने कार्ड बना दिया और वह लगातार घर पर आता जाता रहा. इसी बीच उसने कुछ दिन पहले ऐप डाउनलोड करने का बहाना बनाकर ईमित्र के माध्यम से 87 हजार के दो ट्रांजेक्शन कर करीब 1 लाख 75 हजार रुपये की चपत लगा दी. पीड़ित सुरेश ने इस मामले में अलवर गेट थाने में शिकायत दर्ज करवाई है.

वहीं दूसरा मामला भी अलवर गेट थाना क्षेत्र का है. जहां के एलआईसी ऑफिस के नजदीक रहने वाले विजय कुमार शर्मा के साथ भी इसी तरह की वारदात को अंजाम दिया गया. पीड़ित विजय शर्मा के अनुसार क्रेडिट कार्ड बनाने वाले ने उनसे उनका मोबाइल लिया और ऐप डाउनलोड करने के बहाने सभी ओटीपी और कार्ड नंबर सेट्रांसजेक्शन कर लिया. इस मामले की सूचना क्रेडिट कार्ड कंपनी से 95,000 रुपये के लेनदेन की बात बताने पर मिली. जिसकी शिकायत उन्होंने अलवर की थाने में दर्ज कराई है.

तीसरा मामला अजमेर के रामगंज थाने से जुड़ा है. जहां उसी आरोपी अमित उर्फ गोपाल राठी ने सोमलपुर के रहने वाले ताज उल इस्लाम का क्रेडिट कार्ड बनाया और फिर ऐप डाउनलोड करने के बहाने 84,000 का ट्रांजैक्शन कर लिया. पीड़ित की शिकायत पर रामगंज थाना पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी है. अजमेर में ऑनलाइन ठगी के मामले लगातार आते रहे हैं लेकिन अब क्रेडिट कार्ड बनाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के मामले भी सामने आने लगे हैं. जहां एक ही दिन में तीन घटनाएं सामने आई है. जहां आरोपी द्वारा कार्ड बनाकर लाखों की चपत लगाई जा रही है. फिलहाल अजमेर पुलिस सभी मामलों में तफ्तीश में जुटी है. बताया जा रहा है कि आरोपी जयपुर का रहने वाला है और वह इस तरह की वारदात करता रहता है लेकिन फिर भी आम जनता उसके झांसे में आ गई.