close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पंडित दिनदयाल उपाध्याय आदर्श पुरुष का बेहतरीन उदाहरण: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की 103 वीं जयंती पर जयपुर में एक कार्यक्रम का में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उनकी जीवनी, विचारों पर अपनी राय रखी.

पंडित दिनदयाल उपाध्याय आदर्श पुरुष का बेहतरीन उदाहरण: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
जयपुर में एक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह. (फोटो साभार: twitter/rajnathsingh)

जयपुर: पंडित दीनदयाल उपाध्याय(Pandit Deen dayal Upadhyay) की 103 वीं जयंती पर जयपुर(Jaipur) में एक कार्यक्रम का आयोजन हुआ. इस कार्यक्रम में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह(Rajnath singh) भी मौजूद थे. 

कार्यक्रम के दौरान उन्होंने पं दीनदयाल उपाध्याय को भक्ति समन्वित, ज्ञानयुक्त निसगकाम कर्मयोगी बताया. उन्होंने कहा कि यह तीनों विशेषताएं उनमें समाहित थी. उन्होंने पंडित जी आदर्श पुरुष का बेहतरीन उदाहरण बताया. 

भारत की राजनीति में दिया नया विचार
उन्होंने कहा कि पंडित जी ने भारत की राजनीति के किये नया विचार देने का काम किया था. भारत का सर्वांगीण विकास करने के लिए एक दार्शनिक अवधारणा की ज़रूरत थी. और यह अवधारणा एकात्म मानववाद की थी.

देश का भला कर सकता है केवल एकात्म मानववाद
उन्होंने कहा कि जब-जब भारत की सीमाएं छोटी हुई हैं. तब ही देश की आवाज़ उठाने का काम राष्ट्रवादियों ने किया. पहले यह काम जनसंघ ने किया और अब बीजेपी करती है. उन्होंने कहा कि पूंजीवाद, समाजवाद और साम्यवाद भारत का भला नहीं कर सकते. बल्कि देश का भला एकात्म मानववाद ही कर सकता है. ऐसा पंंडित जी हमेशा कहा करते थे. पंडित दिनदयाल उपाध्याय के विचारों के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति के मन को सुख मिल जाए ऐसा काम होना चाहिए. यह महान विचार उनका था.

80 से 90 फीसदी जमीन सरकार करेगी सिंचिंत
उन्होंने कहा कि हम देश की 80 से 90 फीसदी जमीन सिंचित करना चाहते हैं. सरकार की कोशिश साल 2022 में बड़ा लक्ष्य हासिल करने की है. हर हाथ को काम की बात भी दीनदयाल जी ने कही थी और इस सरकार ने इस पर काम किया है. हर घर में नल और हर नल में जल हमारा लक्ष्य है. कार्यक्रम के दौरान सिंह ने कहा कि पानी का ज़िम्मा भी राजस्थान के गजेंद्र सिंह शेखावत को दिया है.

हाउडी मोदी कार्यक्रम से देश गौरवान्वित
इस दौरान उन्होंने अमेरिका में हुए हाउडी मोदी(Howdy Modi) कार्यक्रम का भी ज़िक्र किया. उन्होंने कहा कि इससे देश के लोग गौरवान्वित हुए. राजनाथ ने कहा, ''जनसंघ के दीपक आज सूर्य के समान चमक रहा है.''

अनुच्छेद 370 पर भी रखी अपनी राय
इस दौरान उन्होंने अनुच्छेद 370 पर भी अपनी राय रखी. उन्होंने कहा- ''सबसे पहले 370 का विरोध दीनदयाल जी ने ही किया था, हम हर चुनावी घोषणा पत्र में 370 हटाने की बात करते थे. कुछ लोग इस पर सवाल उठाने लगे थे. कहते थे कि बीजेपी लोगों को धोखा देती है. लेकिन हम देश के लोगों को धोखा नहीं दे सकते.''

पाकिस्तान नहीं दोहराए 1971 की गलती
राजनाथ ने कहा कि चुनाव हारना मंजूर है लेकिन धोखा देना कतई मंजूर नहीं है. इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान के रवैये पर भ अपनी राय रखी. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान 1971 की गलती ना दोहराए. अगर हालात बिगड़े तो फिर पीओके(Pak occupied Kahsmir)  का क्या होगा? इस बारे में पाकिस्तान पहले सोच ले. उन्होंने कहा कि हम पीओके के वजूद को स्वीकार नहीं करते. उस पर पाकिस्तान ने जबरन कब्जा कर रखा है. वह पाक ऑक्युपाइड है. आज भी पीओके के लिए कश्मीर विधानसभा में 24 सीटें खाली रखी हैं.