close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान सीएम अशोक गहलोत ने केंद्र पर कसा तंज, याद दिलाई GST की विफलता

कार्यक्रम में बोलते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आर्थिक मंदी(Economic Recession), लोकतंत्र की वर्तमान स्थित, राज्य सरकार की ओर से कारोबारी विस्तार की नीतिगत पहल सहित केंद्र की राजनीति पर अपने विचार रखें.

राजस्थान सीएम अशोक गहलोत ने केंद्र पर कसा तंज, याद दिलाई GST की विफलता
जयपुर में एक कार्यक्रम के दौरान सीएम अशोक गहलोत.

जयपुर: जैम एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट काउंसिल(Jam & Jewellery Export Council) की पहल पर सीतापुरा में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ जेम एंड ज्वैलरी के स्टूडेंट हॉस्टल का शुभारंभ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत(Ashok Gehlot) ने किया. 

इस हॉस्टल की नींव भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले कार्यकाल में रखी गई थी. हॉस्टल में 78 कमरे बनाएं गए हैं, जिनमे 250 स्टूडेंट्स की आवासीय व्यवस्था हैं. सीतापुरा फेज़ तीन में निर्मित यह भवन ज्वेलरी सेक्टर में निखार लाएगा. कार्यक्रम में जयपुर के जैम एंड ज्वैलरी सेक्टर के बड़े चेहरे मौजूद रहे. 

कार्यक्रम में बोलते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आर्थिक मंदी(Economic Recession), लोकतंत्र की वर्तमान स्थित, राज्य सरकार की ओर से कारोबारी विस्तार की नीतिगत पहल सहित केंद्र की राजनीति पर अपने विचार रखें.

राजस्थान का भविष्य बेहतर हैं
सीतापुरा में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ जेम एंड ज्वैलरी के स्टूडेंट हॉस्टल का शुभारंभ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के हाथों हुआ. वर्ष 2012 में फाउण्डेशन स्टोन लगाने का काम भी मुख्यमंत्री गहलोत के हाथों हुआ था. हॉस्टल में 78 कमरे बनए गए हैं जिनमें 250 स्टूडेंट्स के ठहरने की व्यवस्था हैं. 

उद्घाटन समारोह को संबांधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि वर्तमान दौर अर्थव्यवस्था की सेहत को प्रभावित करने वाला हैं, लेकिन यहां यह जानकार अच्छा लगा की ज्वैलरी इंडस्ट्री बेहतर काम कर रही हैँ. 

अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मनमोहन सिंह(Manmohan Singh) के समय क्रूड ऑयल उच्चतम स्तर पर था, आर्थिक स्थिति चुनौतिपूर्ण थी, लेकिन बेहतर प्रबंधन के दम पर भारत मजबूत रहा. आज स्थिति उलट हैं, हर तरफ निराशा का माहौल हैं, सवाल पूछने वालों को जांच एजेंसियों का भय दिखाया जा रहा हैं. 

केंद्र की नीति और रीति में खोट
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कारोबारियों के मंच से केंद्र की मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कि केंद्र की नीति और रीति में खोट हैं, कांग्रेस मुक्त भारत बनाने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे. गहलोत ने केंद्र सरकार की सोच को चीन में सिंगल पार्टी के सिद्वांत कीतरह बताते हुए कहा कि लोकतंत्र की खूबी यहीं हैं कि सीएम भी गरीब के पांव छूकर वोट मांगता हैं, लोकतंत्र में असहमति का भी स्थान होना चाहिए. 

आज विपक्ष की राजनीतिक पाटियों को चंदा देने पर भी रोक लगाई जा रही हैँ. लोग मोबाइल फोन पर बात करने से कतराने लगे हैं. जैम बुर्श को बीस साल से ज्वैर्ल्स ने ही अटका कर रखा हुआ हैं, हम जमीन देने को तैयार हैं, निर्माण ज्वैर्ल्स करें.

जीएसटी का बकाया मिलने में देरी
जीएसटी को विफल बताते हुए गहलोत ने कहा कि इसका लगातार घटता कलेक्शन बताता हैं कि यह व्यव्स्था सफल नहीं हो पाई हैं, इससे राज्यों को मिलने वाला राजस्व भी प्रभावित हुआ हैं. राजस्थान का सात हजार करोड़ रुपए का जीएसटी केंद्र के खाते में हैं.  

राजस्थान का बेहतर औद्योगिक भविष्य बताते हुए उन्होंने कहा कि ऑयल और खनन सम्भावनाओं से भरा हुआ यह प्रदेश हैँ. बेरोजगारी समस्या से निपटने के लिए उद्यमों का विकास जरुरी हैँ. हाउडी मोदी इंवेंट पर भी ट्रंप का पक्ष लेने पर उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साझा. सिंगल विंडों एजेंसी को प्रभावी बनाने के निर्देश उन्होंने एसीएस इंडस्ट्री डॉ सुबोध अग्रवाल को दिए. 

आला अधिकारी रहे मौजूद
कार्यक्रम में एसीएस इंडस्ट्री डॉ सुबोध अग्रवाल, रीको प्रबंधन निदेशक आशुतोष एटी पेंणडेकर, ज्वैलर नवरतन कोठारी, राजीव जैन, निर्मल बरड़िया, प्रमोद अग्रवाल, विजय चोरड़िया, संजय काला सहित जयपुर ज्वैलर्स एसोसिएशन के सदस्य और सीतापुरा

औद्योगिक क्षेत्र एसोसएिशन के सदस्य मौजूद रहे. सीएम के संबोधन में प्रदेश के औद्योगिक क्षेत्र में आ रही तमाम बाधाओं को दूर करने की मंशा नजर आई.