close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: रॉबर्ट वाड्रा मामले में सुनवाई टालने का ED ने किया विरोध, 26 सितंबर से अंतिम बहस

Robert Vadra Bikaner Kolayat Land Scam: राजस्थान हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान एएसजी राजदीपक रस्तोगी ने इस मामले में करीब 10 बार से ज्यादा बार सुनवाई टल जाने का कड़ा विरोध जताते हुए अंतिम बहस शुरू करने की मांग की.

राजस्थान: रॉबर्ट वाड्रा मामले में सुनवाई टालने का ED ने किया विरोध, 26 सितंबर से अंतिम बहस
बीकानेर के कोलायत क्षेत्र में जमीन खरीद-फरोख्त मामले में गैरकानूनी तरीके से मनी लॉन्ड्रिंग का यह मामला है.

भवानी भाटी, जोधपुर: रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) और उनकी मां मौरीन वाड्रा से जुड़ी कंपनी स्काई लाइट प्राइवेट हॉस्पिटैलिटी की याचिका पर गुरुवार को सुनवाई हुई.

राजस्थान हाई कोर्ट(Rajasthan High Court) मुख्य पीठ जोधपुर में जस्टिस पुष्पेंद्र सिंह भाटी की कोर्ट में ईडी की ओर से एएसजी राजदीपक रस्तोगी ने कड़ा विरोध जताते हुए मामले की अंतिम बहस शुरू करने के लिए मामले को मेंशन किया. इस दौरान अदालत ने दोनों पक्षो को सुनने के बाद अब इस मामले में आगामी सुनवाई के लिए 26 सितंबर का समय मुकर्रर किया. जहां अब इस मामले में अंतिम बहस शुरू हो सकेगी.

कोर्ट में सुनवाई के दौरान एएसजी राजदीपक रस्तोगी ने इस मामले में करीब 10 बार से ज्यादा बार सुनवाई टल जाने का कड़ा विरोध जताते हुए अंतिम बहस शुरू करने की मांग की. 

LIVE TV देखें:

इस दौरान एएसजी रस्तोगी ने कोर्ट को बताया कि इस मामले में थर्ड पार्टी अंतरिम आदेश जारी किए गए हैं. जिसमें स्काई लाइट प्राइवेट हॉस्पिटलिटी के लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनर रॉबर्ट वाड्रा व उनकी मां मौरीन वाड्रा की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक है. इस गिरफ्तारी के अंतरिम रोक के आदेश को हटाने को लेकर ईडी की तरफ से एक प्रार्थना पत्र पूर्व में कोर्ट के समक्ष पेश किया गया था. वह प्रार्थना पत्र भी अभी सुनवाई के लिए लंबित है. ऐसे में या तो इस मामले में अंतिम बहस कर ली जाए या इस प्रार्थना पत्र पर सुनवाई की जाए. 

एएसजी रस्तोगी ने बचाव पक्ष के अधिवक्ता पर आरोप लगाया कि वे लगातार सुनवाई को टाल रहे हैं और रॉबर्ट वाड्रा व मौरीन वाड्रा कोर्ट द्वारा जारी किए गए गिरफ्तारी पर रोक के अंतरिम आदेश को एंजॉय कर रहे हैं. एएसजी रस्तोगी के कड़े विरोध के बाद कोर्ट ने आज इस मामले की सुनवाई के लिए आगामी 26 सितंबर की तारीख मुकर्रर की है. साथ ही ऑर्डर में यह मेंशन किया है कि एएसजी लगातार विरोध दर्ज कर रहे हैं. 

आपको बता दें कि इस मामले में करीब 1 दर्जन बार मामले की सुनवाई कोर्ट में टल चुकी है. एएसजी राजदीपक रस्तोगी ने कोर्ट को यह भी बताया कि इस मामले में ना तो वाड्रा के खिलाफ कोई एफआईआर दर्ज है और ना ही उन्हें आरोपी बनाया गया है. जिसके चलते गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक के आदेश को वेकेंट किया जाए. 

बता दें, बीकानेर से कोलायत क्षेत्र में 275 बीघा जमीन खरीद-फरोख्त मामले में गैरकानूनी तरीके से मनी लॉन्ड्रिंग का यह मामला है. रॉबर्ट वाड्रा व उनकी मां मौरीन वाड्रा ने कंपनी के महेश नागर को पैसे दिए थे. जिसका चेक महेश नागर ने अपने ड्राइवर को देखकर, उसके नाम इस जमीन की खरीद-फरोख्त कर मामले को अंजाम दिया था. 

इस मामले में कंपनी के सभी भागीदारों से ईडी पूछताछ कर रही है. पूर्व में कोर्ट के आदेश के बाद रॉबर्ट वाड्रा जयपुर स्थित ईडी के कार्यालय में पेश होकर ईडी के सवालों का भी सामना कर चुके हैं. अब इस मामले में आगामी  26 सितंबर को 2 बजे अंतिम बहस की जाएगी. आज सुनवाई के दौरान ईडी के अधिकारी रवि मल्लिक भी कोर्ट में उपस्थित थे.