close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दो महिलाओं ने सबरीमाला मंदिर की शुरू की चढ़ाई लेकिन विरोध के चलते रोकनी पड़ी यात्रा

मल्लपुरम की बिन्दु और कोझिकोड की दुर्गा पुलिस के भारी सुरक्षा के बीच मंदिर की ओर बढ़ रही थीं

दो महिलाओं ने सबरीमाला मंदिर की शुरू की चढ़ाई लेकिन विरोध के चलते रोकनी पड़ी यात्रा
फोटो ANI

सबरीमलाः रजस्वला आयु वर्ग की दो महिलाओं ने श्रद्धालुओं के कड़े विरोध के बावजूद सोमवार तड़के सबरीमला मंदिर पहुंचने के लिए चढ़ाई शुरू कर दी. लेकिन विरोध के चलते इन्हें भी बेस कैंप वापस लौटना पड़ा. रविवार को सबरीमला में बेहद नाटकीय घटनाक्रम देखने को मिला जब हजारों श्रद्धालुओं ने पुलिस की सुरक्षा में मंदिर की ओर बढ़ रहीं 50 वर्ष से कम आयु की 11 महिलाओं के एक समूह का रास्ता रोक दिया था. 

मल्लपुरम की बिन्दु और कोझिकोड की दुर्गा पुलिस के भारी सुरक्षा के बीच मंदिर की ओर बढ़ रही थीं. बिन्दु ने संवाददाताओं से कहा, “हम यहां भगवान अयप्पा के ‘दर्शन’ करने आए हैं. सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लागू किया जाना चाहिए और उम्मीद है कि पुलिस हमें सुरक्षा मुहैया कराएगी.” 

 

बिन्दु और दुर्गा पुलिस की सुरक्षा में सनिधानम से एक किलोमीटर दूर मराकूटम पहुंच गई. वे अपने साथ और पुलिसकर्मियों के आने का इंतजार कर रही थीं. इन महिलाओं को इससे पहले श्रद्धालुओं ने सबरीमला के रास्ते में पड़ने वाले अप्पाचीमेदु में रोक दिया था जिन्हें बाद में पुलिस ने हटा दिया. 

लेकिन बाद में इन महिलाओं के विरोध प्रदर्शन के चलते वापस पंपा बेस कैंप लौटाया गया. 

उधर बिंदू नाम की इस महिला के मल्लापुरम स्थित घर के बाहर भगवान अयप्पा के भक्तों ने विरोध प्रदर्शन किया. वहीं भाजपा ने भी इन महिलाओं के घर के सामने प्रदर्शन शुरू कर दिया है. 

(इनपुट भाषा से)