राज्‍यसभा में उठी गोवंशीय पशुओं के हमले में मारे गए लोगों को मुआवजे की मांग

राज्‍यसभा में उठी गोवंशीय पशुओं के हमले में मारे गए लोगों को मुआवजे की मांग

शून्यकाल के दौरान समाजवादी पार्टी के रवि प्रकाश वर्मा ने यह मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि उत्तर भारत में, खास तौर पर उत्तर प्रदेश में आवारा छोड़ दिए गए गोवंशीय पशुओं के हमले की घटनाएं आए दिन हो रही हैं.

राज्‍यसभा में उठी गोवंशीय पशुओं के हमले में मारे गए लोगों को मुआवजे की मांग

नई दिल्ली : राज्यसभा में शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के एक सदस्य ने जंगली पशुओं के मारे जाने पर लोगों को सरकार की तरफ मुआवजा मिलने किंतु गोवंशीय पशुओं के हमले में मारे जाने वाले लोगों को कोई मुआवजा नहीं मिलने की विसंगित की ओर सरकार का ध्यान दिलाते हुए गोवंशीय पशुओं के हमले में मारे गए लोगों को पांच पांच लाख रूपये का मुआवजा दिए जाने की मांग की. साथ ही ऐसे हमलों में हुई फसलों की हानि को फसल बीमा योजना के दायरे में लाए जाने की मांग उठाई. 

शून्यकाल के दौरान समाजवादी पार्टी के रवि प्रकाश वर्मा ने यह मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि उत्तर भारत में, खास तौर पर उत्तर प्रदेश में आवारा छोड़ दिए गए गोवंशीय पशुओं के हमले की घटनाएं आए दिन हो रही हैं. ‘‘खेतों पर धावा बोल कर ये पशु फसल चौपट कर जाते हैं. कई गांवों में लोगों ने अपनी फसल बचाने के लिए खेतों में तारबंदी की है.’’ 

वर्मा ने कहा कि समुचित नीति के अभाव में इन पशुओं की देखभाल नहीं हो रही है. कई बार ये पशु हिंसक हो जाते हैं. राजमार्गों पर इनके आने से न केवल दुर्घटनाएं होती हैं बल्कि वाहनों की आवाजाही भी इनसे प्रभावित होती है. सपा सदस्य ने कहा कि इन पशुओं के हमले में कई लोग मारे गए हैं और कई विकलांग हो चुके हैं.

उन्होंने कहा ‘‘जब बाघ, भालू जैसे जंगली पशुओं के हमले में लोगों के मारे जाने या घायल होने पर मुआवजा दिया जाता है तो गोवंशीय पशुओं के हमले में लोगों के मारे जाने या घायल होने पर मुआवजा दिया जाना चाहिए। ऐसे हालात में लोगों को पांच पांच लाख रुपये का मुआवजा दिया जाए. इन पशुओं के हमले की वजह से फसल नष्ट हो जाती है. फसल की इस तरह हानि को फसल बीमा योजना के दायरे में लाया जाना चाहिए.’’ कई दलों के सदस्यों ने वर्मा के इस मुद्दे से स्वयं को संबद्ध किया.

Trending news