संजय राउत के ट्वीट में आज रिश्तों का हवाला, समझिए क्या हो सकते हैं मायने

संजय राउत का आज का ट्वीट रिश्तों को लेकर कुछ अलग अंदाज बयां कर रहा है. 

संजय राउत के ट्वीट में आज रिश्तों का हवाला, समझिए क्या हो सकते हैं मायने
संजय राउत ने आज के ट्वीट में रिश्तों का हवाला दिया है....

नई दिल्ली : राजनीति में कभी कोई रिश्ता स्थाई दोस्ती या दुश्मनी का नहीं होता. देश की सियासत में इसका सबसे सटीक उदाहरण महाराष्ट्र है जो अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद से बॉलीवुड के ड्रग्स कनेक्शन तक लगातार सुर्खियों में है.

शिवसेना सीएम उद्धव ठाकरे से लेकर पार्टी प्रवक्ता और सांसद संजय राउत लगातार बीजेपी पर हमलावर रहे हैं. कभी प्रेस कॉंफ्रेंस तो कभी ट्वीट करके एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का वो दौर भी देखने को मिला जब जुबानी कड़वाहट और भाषाई मर्यादा की सीमा तक लांघ दी गई. 

इस बीच संजय राउत का आज का ट्वीट रिश्तों को लेकर कुछ अलग अंदाज बयां कर रहा है. शायराना अंदाज में लिखे गए इस ट्वीट के मुताबिक राउत कहना चाहते हैं कि 'किसी भी रिश्ते को कितनी भी ख़ूबसूरती से क्यों ना बाँधा जाए... अगर नज़रों में इज़्ज़त और बोलने में लिहाज़ ना हो तो वह टूट जाता है.'

अब उनके इस ट्वीट के अलग-अलग मायने निकाले जा रहे हैं. 

दरअसल बंबई हाई कोर्ट (Bombey High Court) ने अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की, BMC द्वारा उनके बंगले के एक हिस्सा गिराए जाने के खिलाफ दायर याचिका पर शिवसेना के प्रमुख प्रवक्ता संजय राउत (Sanjay Raut) से कल जवाब मांगा था. राउत ने उन्हें पार्टी बनाए जाने को हास्यास्पद बताते हुए कहा था कि उनके खिलाफ अदालत में मामले कोई नयी बात नहीं है. 

गौरतलब है कि नौ सितंबर को बीएमसी ने पाली हिल इलाके में कंगना के बंगले का एक हिस्सा गिरा दिया था. उसके बाद 'उखाड़ लेना' से लेकर न जाने क्या कुछ नहीं कहा गया, शब्दों की मर्यादा ने तूल पकड़ा तो बयानों पर सफाई भी दी गई. संजय राउत पत्रकार होने के साथ अपने बेबाक अंदाज के लिए जाने जाते हैं ऐसे में हमेशा से आक्रामक नेता की छवि रखने वाले संजय राउत के इस शायरान अंदाज को समझना इतना आसान भी नहीं है. 

Video-