गहलोत सरकार पर सतीश पूनिया का हमला, कहा- उपचुनाव से पहले लोगों को डरा रही कांग्रेस

मंडावा और खींवसर के उप चुनाव पर डॉ. सतीश पूनिया ने जवाब देते हुए कहा कि सरकार प्रशासनिक मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है. सरकारी अधिकारी और कर्मचारियों को डराया-धमकाया जा रहा है.

गहलोत सरकार पर सतीश पूनिया का हमला, कहा- उपचुनाव से पहले लोगों को डरा रही कांग्रेस
पूनिया ने शक्ति केंद्र के प्रभारियों से उनके द्वारा किए गए कार्यों की विस्तार से जानकारी ली.

संदीप केडिया, झुंझुनूं: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने कांग्रेस सरकार पर एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि जब प्रदेश की कांग्रेस सरकार सत्ता में आई थी तो उनके सदस्यों की संख्या 99 थी. ऐसे में इस सरकार की पैदाइश की कंफ्यूजन में हुई है. पूनिया रविवार को झुंझुनूं के दौरे पर थे. झुंझुनूं पहुंचने पर भाजपा निकाय चुनावों को लेकर उन्होंने यह बात कही. 

उन्होंने कहा कि पहले तो जन घोषणा पत्र में निकाय चुनावों को डायरेक्ट कराने का वादा प्रदेश की जनता से किया. अब जब जनता का मूड देखा तो कभी डायरेक्ट और कभी इन डायरेक्ट चुनाव करवाने की बात सामने आ रही है लेकिन डॉ. पूनियां ने दावा किया कि ये चाहे चुनाव डायरेक्ट करवाए या फिर इन डायरेक्टर, जनता इन्हें झपीड़ मारने के लिए तैयार बैठी है. 

उन्होंने कहा कि यही कारण कि वार्डों को तोड़ा मरोड़ा जा रहा है ताकि बाड़ेबंदी कर, सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग कर निकाय चुनावों में जीत दर्ज कर सके लेकिन भाजपा तैयार है. कांग्रेस जैसी मर्जी हो, वैसे चुनाव करवा लें. उन्होंने उप चुनावों में वसुंधरा राजे के प्रचार में आने के सवाल पर कहा कि राजे फिलहाल व्यस्त है. हाल ही में वे यूपी में जन जागरण कार्यक्रमों में हिस्सा लेकर लौटी हैं. उनसे समय लिया जा रहा है. वे चुनाव प्रचार में भी आएंगी और संगठनात्मक कार्यक्रमों में भी आएंगी. 

इस मौके पर किसान के बेटे को मुख्यमंत्री बनाने के सवाल पर पूनिया ने कहा कि फिलहाल तो उनका लक्ष्य है कि 2023 में कांग्रेस मुक्त राजस्थान कैसे किया जाए? लेकिन फिर भी किसान के बेटे को भी मौका मिलना चाहिए, मिलता भी है और आगे मिलेगा भी. इस मौके पर भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ओम सारस्वत, लक्ष्मीकांत भारद्वाज, उप चुनाव प्रभारी डॉ. विश्वनाथ मेघवाल, लूणकरणसर विधायक सुमित गोदारा, भाजपा जिलाध्यक्ष पवन मावंडिया, सभापति सुदेश अहलावत, भाजपा जिला महामंत्री राजेंद्र भांबू, योगेंद्र मिश्रा, जिला मंत्री नीता यादव, सुमन कुलहरि गढ़वाल, भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश मंत्री अशोकसिंह बड़ागांव, जगदीश गुर्जर केसरीपुरा, प्रवक्ता कमलकांत शर्मा व एडवोकेट अशोकसिंह शेखावत आदि मौजूद थे. झुंझुनूं शहर में प्रवेश करने के बाद डॉ. पूनिया ने शहीद स्मारक, झूंझारसिंह, डॉ. बीआर अंबेडकर आदि शहीदों को माल्यार्पण किया.

सीएम के बयान पर कहा, अपनी अंर्तकलह संभालें
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को लेकर दिए गए बयान पर डॉ. सतीश पूनिया ने पलटवार किया. जमुना रिसोर्ट में हुई प्रेस वार्ता में डॉ. पूनिया ने कहा कि सीएम अपनी पार्टी का ध्यान रखें. दिल्ली में मां और बेटों के गुट बने हुए हैं. वहीं राजस्थान मे मुख्यमंत्री उप मुख्यमंत्री के गुट बने हुए हैं. 

उप चुनावों में डरा रही है कांग्रेस
मंडावा और खींवसर के उप चुनाव पर डॉ. सतीश पूनिया ने जवाब देते हुए कहा कि सरकार प्रशासनिक मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है. सरकारी अधिकारी और कर्मचारियों को डराया-धमकाया जा रहा है. अभी जो ट्रांसफर उद्योग चला वह उसी का प्रमाण है लेकिन राजस्थान की जनता अब कांग्रेस के झांसे में नहीं आएगी. 

कहां गया जनता क्लिनिक?
प्रेस वार्ता में डॉ. सतीश पूनिया ने गहलोत सरकार की बजट घोषणा के मुताबिक प्रस्तावित जनता क्लिनिक पर भी सवाल पूछा. उन्होंने कहा कि बजट में जनता क्लिनिक खोलने की घोषणा की गई थी लेकिन अभी तक सरकार एक भी क्लिनिक नहीं खोल पाई है. साथ ही इस क्लिनिक को खोलने को लेकर अभी तक तो कोई मूवमेंट भी शुरू नहीं हुआ है.

शक्ति केंद्र प्रभारियों को किया संबोधित
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने जमुना रिसोर्ट में शक्ति केंद्र प्रभारियों को भी संबोधित किया. उन्होंने कहा कि बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं को घर-घर जाकर मतदाताओं को जागृत करना है. प्रत्येक मतदाता को भाजपा की रीति नीति के बारे में बताना है. नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए जनहित कार्यों के बारे में बता कर भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में वोट देने के लिए तैयार करना है. 

पूनिया ने शक्ति केंद्र के प्रभारियों से उनके द्वारा किए गए कार्यों की विस्तार से जानकारी ली. प्रत्येक प्रभारी ने अपने अपने शक्ति केंद्रों पर किए हुए कार्य की रिपोर्ट प्रदेशाध्यक्ष के समक्ष पेश की. इस मौके पर भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अशोक सैनी, भाजपा जिलाध्यक्ष पवन मावंडिया, प्रदेश प्रवक्ता ओम सारस्वत, लूणकरणसर विधायक सुमित गोदारा, चौमूं विधायक रामलाल शर्मा, विधायक धर्मेंद्र मोची, विधायक निर्मल कुमावत,  जिला प्रवक्ता कमलकांत शर्मा, सीकर भाजपा जिलाध्यक्ष विष्णु चेतानी, हरिराम रणवां सीकर, विपुल छक्कड़, विक्रम सैनी, पूर्व जिलाध्यक्ष राजेंद्र शर्मा, राकेश शर्मा, इंद्राज सैनी, सुभाष मावंडिया सहित सैंकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे.