शिवसेना विधायक ने मराठा आरक्षण आंदोलन के समर्थन में दिया इस्तीफा

शिवसेना विधायक हर्षवर्धन जाधव ने कहा कि उन्होंने अपना इस्तीफा विधानसभाध्यक्ष को ईमेल कर दिया है और वह गुरुवार को मुंबई में उन्हें निजी तौर पर भी सौंपेंगे.

शिवसेना विधायक ने मराठा आरक्षण आंदोलन के समर्थन में दिया इस्तीफा
मुंबई में बुधवार को मराठा आरक्षण के लिए प्रदर्शन करते कार्यकर्ता. (फोटो साभार - IANS)

मुंबई: महाराष्ट्र के औरंगाबाद से शिवसेना के एक विधायक ने मराठा आरक्षण मांग के समर्थन में बुधवार को इस्तीफे की पेशकश की. शिवसेना विधायक हर्षवर्धन जाधव कन्नड विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. उन्होंने हाल में घोषणा की थी कि यदि आंदोलनरत मराठा समुदाय की मांगों को पूरा नहीं किया गया तो वह इस्तीफा दे देंगे. जाधव भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रावसाहेब दानवे के दामाद हैं. 

जाधव ने विधानसभाध्यक्ष हरिभाऊ बागड़े को लिखे एक पत्र में लिखा है कि वह बुधवार दोपहर में अपना इस्तीफा दे रहे हैं. संपर्क किए जाने पर जाधव ने कहा कि उन्होंने अपना इस्तीफा विधानसभाध्यक्ष को ईमेल कर दिया है और वह गुरुवार को मुंबई में उन्हें निजी तौर पर भी सौंपेंगे. राज्य और केंद्र सरकारों में भाजपा नीत सरकारों की घटक शिवसेना के 288 सदस्यीय सदन में 63 विधायक हैं. 

मराठा समुदाय के लोग सरकारी नौकरियों और शिक्षा में ओबीसी श्रेणी में आरक्षण की मांग कर रहे हैं. समुदाय के सदस्य गत दो दिनों से अपनी मांग को लेकर महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन कर रहे हैं. 

हिंसा के बाद बीच में ही खत्म किया गया मुंबई बंद
आरक्षण समर्थक मराठा संगठनों की ओर से मुंबई में आयोजित एक दिन का बंद बुधवरा को बीच में ही वापस ले लिया गया. बंद के दौरान हिंसा भड़क जाने के बाद बंद वापस लिया गया. इस बीच , जहरीली चीज खा लेने के एक दिन बाद आज एक और प्रदर्शनकारी की मौत हो गई. 

प्रदर्शनकारियों ने मराठा संगठनों की ओर से आयोजित बंद के दौरान मुंबई और इससे सटे ठाणे जिले सहित महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बसों पर हमला किया , आगजनी की और लोकल ट्रेनों पर पत्थर फेंके. मराठा संगठनों ने नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण की अपनी मांग को लेकर बंद आयोजित किया था. 

पथराव में एक पुलिस अधीक्षक सहित तीन पुलिसकर्मी जख्मी हुए. प्रदर्शनकारियों ने कई घंटे तक मुंबई - पुणे और मुंबई - गोवा राजमार्ग को जाम रखा. पुलिस ने कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शनकारियों को तितर - बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे और लाठीचार्ज किया. 

महाराष्ट्र में विभिन्न स्थानों पर सोमवार से ही हो रहा प्रदर्शन आज मुंबई पहुंच गया जहां शहर को पूरी तरह बंद कराने की कोशिश की गई. बहरहाल , आज सुबह शुरू हुआ बंद कुछ जगहों पर हिंसा होने के कारण दोपहर तीन बजे से थोड़ा पहले ही वापस ले लिया गया. 

(इनपुट - भाषा)