महाराष्ट्र की नई सरकार पर संजय राउत का Tweet, 'शपथ समारोह था या अंतिम संस्कार'

शिवसेना ने आरोप लगाया कि अजित पवार NCP के विधायकों का लगभग अपहरण करके राजभवन ले गए थे.

महाराष्ट्र की नई सरकार पर संजय राउत का Tweet, 'शपथ समारोह था या अंतिम संस्कार'
राउत ने राज्य के नए उप-मुख्यमंत्री अजीत पवार पर जमकर हमला बोला. (फाइल फोटो)

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में शनिवार सुबह अचानक हुए बदलाव से शिवसेना समेत दूसरी दल स्तब्ध रह गए. सेना के सांसद और प्रवक्त संजय राउत (Sanjay Raut) ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) और उपमुख्यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar) के शपथ ग्रहण पर कटाक्ष करते हुए मराठी भाषा में ट्वीट कर पूछा कि यह शपथ समारोह था या सुबह अंतिम संस्कार की क्रिया.

राउत ने आरोप लगाया कि राज्य के नए उप-मुख्यमंत्री अजीत पवार ने राज्य के लोगों और छत्रपति शिवाजी की पीठ पर वार किया है और एनसीपी चीफ शरद पवार को धोखा दिया है.

शिवसेना नेता ने अपने बयान में कहा, ''अजित पवार एनसीपी के विधायकों का लगभग अपहरण करके राजभवन ले गए थे. पवार को बीजेपी ने ब्लैकमेल किया. पवार के साथ राजभवन जाने वाले सिर्फ 8 विधायक थे, जिनमें में से 5 वापस आ गए हैं. अजित पवार भी वापस आएंगे. डकैत जैसा व्यवहार बीजेपी को महंगा पड़ेगा. अंधेरे में सरकार बनाई, अंधेरे में सिर्फ पाप होता है.''

राउत ने कहा, "हमें कुछ ऐसे घटनाक्रमों को लेकर अंदेशा था, क्योंकि हमारी इतनी गंभीर बैठकों के दौरान अजीत पवार ने हमारी आंखों में देख कर कभी बात नहीं की थी... यहां तक कि शरद पवार ने भी उनके भतीजे (अजीत पवार) द्वारा अक्टूबर के चुनावों से ठीक पहले अचानक विधानसभा सीट छोड़ने पर संदेह व्यक्त किया था."

राउत ने आगे कहा कि अजीत पवार शुक्रवार को बहुत देर तक शिवसेना-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के नेताओं के साथ रहे और सब कुछ सामान्य दिखा.

उधर, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने कहा कि महाराष्ट्र विधानमंडल में राकांपा के नेता अजीत पवार द्वारा भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ सरकार बनाने का कदम "उनका व्यक्तिगत निर्णय है, राकांपा का नहीं."

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में शनिवार (23 नवंबर) सुबह अचानक राकांपा विधायक दल के नेता अजित पवार के सहयोग से भाजपा सरकार बनाने में सफल हो गई. सुबह 8 बजे भाजपा विधायक दल के नेता देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री और राकांपा नेता अजित पवार ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेकर सबको चौंका दिया.