शिवसेना ने कहा, 'BJP विपक्ष में बैठने के लिए तैयार लेकिन 50-50 का वादा निभाने को तैयार नहीं'

संजय राउत ने कहा, बीजेपी से चुनाव से पहले जो करार था बीजेपी अब उसे मानने को तैयार नहीं तो ऐसे मैं अब उसके साथ कौन सा रिश्ता रहा'

शिवसेना ने कहा, 'BJP विपक्ष में बैठने के लिए तैयार लेकिन 50-50 का वादा निभाने को तैयार नहीं'

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में जारी राजनीतिक रस्साकशी के बीच शिवसेना (Shiv Sena) संजय राउत ने बीजेपी (BJP) पर निशाना साधा है. संयज राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि बीजेपी विपक्ष में बैठने के लिए तैयार है लेकिन 50-50 पर अपना वादा निभाना नहीं चाहती है. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के राजनीतिक हालात के लिए हम नहीं बीजेपी जिम्मेदार है.

संजय राउत ने कहा, बीजेपी से चुनाव से पहले जो करार था बीजेपी अब उसे मानने को तैयार नहीं तो ऐसे मैं अब बीजेपी से कौन सा रिश्ता रहा'  एनसीपी सपोर्ट पर संजय राउत ने कहा, जो पार्टियों कल तक कह रही थीं कि राज्य में किसी हालात में बीजेपी का सीएम नहीं होने देंगे उनके लिए आज परीक्षा की घड़ी है. उनको आगे आकर दिखाना पड़ेगी की हम महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार दे सकते हैं.

एनडीए का साथ भी छोड़ेगी शिवसेना
इससे पहले सोमवार सुबह एक बड़े राजनीतिक घटनाक्रम में शिवसेना के कोटे से केंद्र में मंत्री अरविंद सांवत (Arvind Sawant) ने मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है. सावंत ने खुद ट्वीट कर अपने इस्तीफे की जानकारी दी. 

अरविंद सावंत ने कहा, चुनाव लोकसभा चुनाव से पहले सीटों के बंटवारे और सत्ता के बंटवारे को लेकर एक फार्मूला तय हुआ था. यह फार्मूला दोनों को स्वीकार था.अब इस फार्मूले से इनकार कर शिवसेना को झूठलाने की कोशिश  की जा रही है.  सावंत ने कहा, 'शिवसेना सच्चाई की पार्टी है. ऐसे झूठे वातावरण में दिल्ली की सरकार में भी आखिर क्यों रहना?' 

इससे पहले मुंबई में शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के घर 'मातोश्री' पर देर रात तक बैठक चलती रही . बैठक में शिवसेना द्वारा सरकार स्थापना की संभवानाओं पर चर्चा की गई. 

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में तीन घंटे तक चली बैठक में एकनाथ शिंदे, अनिल देसाई, मिलिंद नार्वेकर, आदित्य ठाकरे मौजूद रहे. मीटिंग के बाद सभी नेता मीडिया से बात करने से बचते नजर आए . हाल ही में कांग्रेस को छोड़ शिवसेना में शामिल हुई प्रियंका चतुर्वेदी भी मातोश्री से निकलती नजर आई . यह बैठक रविवार रात 11:00PM बजे के लगभग शुरू हुई थी और करीब 2:30AM पर खत्म हुई .

उद्धव सीएम, अजीत पवार डिप्टी सीएम!
सूत्रों का कहना है कि शिवसेना सोमवार (12 नवंबर) को सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है. माना जा रहा है कि इस सरकार में एनसीपी भी साझेदार बनेगी.  वहीं कांग्रेस बाहर से समर्थन कर सकती है.

सूत्रों का कहना है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) खुद महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री (Maharashtra Chief Minister) बन सकते हैं.

एनसीपी और कांग्रेस के साथ हुई डील में तय हुआ है कि एनसीपी प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजित पवार (Ajit Pawar) को उप मुख्यमंत्री (Maharashtra Chief Minister) का पद मिल सकता है और जयंत पाटिल को गृहमंत्री का पद दिया जा सकता है.  इस सरकार को समर्थन करने के एवज में कांग्रेस को विधानसभा अध्यक्ष का पद दिया जा सकता है.

(इनपुट - अमित त्रिपाठी, नित्यानंद शर्मा, अहसान अब्बास, विनय तिवारी, संजय सिंह)