अयोध्या में राम मंदिर ही बनेगा, 17 नवंबर को एतिहासिक फैसला होगा: शिवसेना

शिवसेना ने कहा है कि फिलहाल ऐसी तस्वीर दिख रही है कि गत 70 सालों से जारी दूसरा वनवास समाप्त होगा और अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनेगा.

अयोध्या में राम मंदिर ही बनेगा, 17 नवंबर को एतिहासिक फैसला होगा: शिवसेना
(फाइल फोटो)

मुंबई: शिवसेना (Shiv Sena) के मुखपत्र सामना में राम मंदिर को लेकर एक विवादास्पद संपादकीय छपा है. लेख में दावा किया गया है कि अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram temple) ही बनेगा. इसके साथ बाबारी मस्जिद समर्थकों के लिए लेख में अपशब्द का इस्तेमाल किया गया है. 

मुखपत्र सामना संपादकीय ने लिखा है, 'अयोध्या में राम मंदिर बनेगा और 17 नवंबर को रामभक्त शिवसेनाप्रमुख की समाधि स्थल पर पुष्प अर्पित करेंगे.'

संपादकीय में लिखा है कि मस्जिद के लिए जो लोग सैकड़ों सालों से मातम कर रहे हैं वे....हैं. संपादकीय में लिखा है बाबर की मस्जिद से जिन मुसलमानों की भावना जुड़ी है, उन्हें हम ‘भारतवासी’ कैसे मानें?

शिवसेना ने कहा है कि फिलहाल ऐसी तस्वीर दिख रही है कि गत 70 सालों से जारी दूसरा वनवास समाप्त होगा और अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनेगा.

17 नवंबर को ऐतिहासिक फैसला होगा. यह दिन शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे की पुण्यतिथि है. 30 साल पहले सबके द्वारा नकार दिए गए प्रभु राम के साथ हिंदूहृदयसम्राट खड़े रहे. 17 नवंबर को रामभक्त शिवसेनाप्रमुख के समाधि स्थल पर पुष्प अर्पित करेंगे.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.