शिवसेना ने कहा, 'BJP नेताओं ने किसकी इजाजत से हमें NDA से निकालने की घोषणा की'

सामना के संपादकीय में कहा गया, बीजेपी के बगल में जब कोई भी कोई खड़ा नहीं होना चाहता था और हिंदुत्व व राष्ट्रवाद जैसे शब्दों को देश की राजनीति में कोई पूछता भी नहीं था.'

शिवसेना ने कहा, 'BJP नेताओं ने किसकी इजाजत से हमें NDA से निकालने की घोषणा की'

मुंबई:  महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के बाद शिवसेना (Shiv Sena) और बीजेपी (BJP) के बीच दूरियां बढ़ती जा रही है. शिवसेना के मुखपत्र सामना (Saamana) में लगातार बीजेपी पर निशाना साधा जा रहा है. मंगलवार को शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के माध्यम से एक बार फिर बीजेपी पर निशाना साधा है. शिवसेना ने बीजेपी से अपने संपादकीय में पूछा है कि हमें एनडीए से निकालने वाले तुम कौन हो. 

सामना मे लिखा है कि ‘एनडीए’ के जन्म और प्रसव पीड़ा को शिवसेना ने अनुभव किया है. भारतीय जनता पार्टी के बगल में जब कोई भी कोई खड़ा नहीं होना चाहता था और हिंदुत्व व राष्ट्रवाद जैसे शब्दों को देश की राजनीति में कोई पूछता भी नहीं था तब और उसके पहले भी जनसंघ के जमाने से शिवसेना ने बीजेपी का साथ दिया था

संपादकीय में कहा गया एनडीए से शिवसेना को किस आधार पर बाहर निकाला गया, ये अहंकारी और मनमानी राजनीति के अंत की शुरुआत है. एनडीए में से शिवसेना के नहीं होने की घोषणा की गई. दिल्ली के भाजपा नेताओं ने किस आधार पर और किसकी अनुमति से यह घोषणा की? ‘यात्रा में जल्दबाजी दुर्घटना को निमंत्रण देती है’ इस प्रकार की जल्दबाजी इन लोगों के लिए ठीक नहीं है.'