close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीकर: टीचर्स के ट्रांसफर को लेकर 3 दिन से चल रहा आंदोलन, छात्रों ने आज हाइवे किया जाम

प्रधानाचार्य केसर सिंह और केमिस्ट्री अध्यापक अविनाश शर्मा को वापस लगाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन और नारेबाजी चल रही है.

सीकर: टीचर्स के ट्रांसफर को लेकर 3 दिन से चल रहा आंदोलन, छात्रों ने आज हाइवे किया जाम
कई छात्राएं तो अपने प्रिय अध्यापकों के लिए फफक फफक कर रोने लग गईं.

हेमंत कुमावत, दांतारामगढ़: अध्यापकों के स्थानांतरण के विरोध में डाटा राजकीय सीनियर विद्यालय के गेट पर ताले लगाकर 3 दिन से लगातार धरना प्रदर्शन चल रहा था जो आज उग्र हो गया और विद्यार्थियों और ग्रामीणों ने सीकर स्टेट हाईवे को जाम कर दिया और सड़क पर बैठ गए और आवागमन बाधित कर दिया. 

करीब 2 घंटे तक हाइवे जाम करने के बाद विद्यार्थी और ग्रामीण वापस विद्यालय के गेट पर पहुंच गए और वहां धरने पर बैठ गए. इस दौरान भारी पुलिस जाब्ता भी मौके पर मौजूद रहा. पुलिस प्रशासन ने धरना स्थल पर पहुंचकर सभी को समझाने की कोशिश की लेकिन विद्यार्थी और ग्रामीण नहीं माने. 

उन्होंने कहा कि जब तक दोनों अध्यापकों को वापस नहीं लगाया जाएगा या विधायक वीरेंद्र सिंह मौके पर पहुंचकर आश्वासन नहीं देंगे तब तक आंदोलन जारी रहेगा. विद्यार्थियों का कहना है कि जब तक दोनों का स्थानांतरण स्थगित नहीं किया जाएगा तब तक स्कूल के बाहर धरने पर ही बैठे रहेंगे. विद्यालय में करीब 900 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं और करीब 400 से 500 विद्यार्थी धरने पर बैठे हैं. 

प्रधानाचार्य केसर सिंह और केमिस्ट्री अध्यापक अविनाश शर्मा को वापस लगाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन और नारेबाजी चल रही है. यदि उन्हें वापस नहीं लगाया गया तो ऐसी स्थिति में आंदोलन और भी उग्र किया जाएगा. दाता गांव के ग्रामीण भी विद्यार्थियों की मांग को जायज मानते हुए पूरे गांव का बाजार बंद कर चुके हैं और पूरे गांव के महिला और पुरुष भी इस धरने में समर्थन के लिए धीरे-धीरे धरना स्थल पर पहुंच रहे हैं. 

कई छात्राएं तो अपने प्रिय अध्यापकों के लिए फफक फफक कर रोने लग गईं. वहीं दूसरी ओर अभी तक विभागीय आला अधिकारियों ने यहां आने की जहमत नहीं उठाई है. उपखंड अधिकारी सहित कोई भी उच्च अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा है.