close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सिक्कम को 24 साल बाद मिलेगा नया मुख्यमंत्री, विधानसभा चुनावों में चामलिंग की करारी हार

सिक्किम की विपक्षी पार्टी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (एसकेएम) ने संघा विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की है और वह आठ विधानसभा क्षेत्रों में आगे चल रही है. वहीं, सत्तारूढ़ सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट चार सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब हो पाई है. 

सिक्कम को 24 साल बाद मिलेगा नया मुख्यमंत्री, विधानसभा चुनावों में चामलिंग की करारी हार
सिक्किम की विपक्षी पार्टी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (एसकेएम) ने संघा विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की है.

गंगटोक: पांच बार के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग का 24 साल से चला आ रहा दौर खत्म हो गया. 2019 के विधानसभा चुनावों में चामलिंग की पार्टी एसडीएफ को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है. चुनाव आयोग के मुताबिक, सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को 15 सीटें मिली जबकि 2013 में अस्तित्व में आई सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चे को 17 सीटें मिली जो 32 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए जरूरी सीटों से एक अधिक है.

किस पार्टी को मिली कितनें सीटें...

क्या कहता है 32 विधानसभा सीटों का आंकड़ा
सिक्किम की विपक्षी पार्टी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (एसकेएम) ने संघा विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की है और वह आठ विधानसभा क्षेत्रों में आगे चल रही है. वहीं, सत्तारूढ़ सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट चार सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब हो पाई है. सिक्किम में 32 विधानसभा सीटें हैं. मौजूदा विधायक और एसकेएम उम्मीदवार सोनम लामा ने संघा विधानसभा सीट से जीत हासिल की है. उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (एसडीएफ) उम्मीदवार शेरिंग लामा को 618 वोटों से हराया.

एसकेम उम्मीदवार कर्मा लोडे भूटिया काबी लुंगचुक विधानसभा सीट से आगे चल रहे हैं. यहां उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी उगेन नेदुप भूटिया हैं. खामदोंग सिंगटम विधानसभा क्षेत्र में एसकेएम के उम्मीदवार मणि कुमार शर्मा अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी एसडीएफ के उम्मीदवार से 873 वोटों से आगे हैं. एसडीएफ उम्मीदवार ताशी थेंदुप भूटिया एसकेएम के अपने प्रतिद्वंद्वी लोबजांग भूटिया से 97 मतों से आगे चल रहे हैं.