श्रीलंका की अदालत के फैसले से भारत में नाराजगी, जानिए क्या है मामला

अदालती फैसले के बाद रामेश्वरम (Rameshwaram) में तनाव पैदा हो गया है. मछुआरा संघ (Fishermen's organizations) के नेता पी सेसुराजा (P Sesuraja) ने जब्त नौकाओं को नष्ट करने के आदेश पर कहा कि ऐसा करने के बजाए नौकाओं को उनके मालिकों को वापस लौटाने के लिए कदम उठाया जाना चाहिए.

श्रीलंका की अदालत के फैसले से भारत में नाराजगी, जानिए क्या है मामला
फाइल फोटो

रामेश्वरम : श्रीलंका की एक अदालत ने अधिकारियों को द्वीपीय देश के क्षेत्र में कथित तौर पर प्रवेश करने के लिए पिछले 3-4 वर्षों में जब्त की गई कई भारतीय नौकाओं (Indian Boats) को नष्ट करने की अनुमति दी है.अधिकारियों ने यहां रविवार को यह जानकारी दी.
उन्होंने बताया कि जाफना की अदालत ने भारतीय मछुआरों की 94 नावों में से 27 को नष्ट करने के आदेश दिए.ये नौकाएं मछली पकड़ने के काम आती हैं.

श्रीलंका के फैसले पर भारत में तनाव
इस घटनाक्रम से दक्षिण भारतीय राज्य तमिलनाडु के द्वीपीय शहर रामेश्वरम (Rameshwaram) में तनाव पैदा हो गया है. मछुआरा संघ (Fishermen's organizations) के नेता पी सेसुराजा (P Sesuraja) ने जब्त नौकाओं को नष्ट करने के खिलाफ अपील की और कहा कि उन नौकाओं को उनके मालिकों को वापस लौटाने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए.

ये भी पढ़ें- इस देश के सुप्रीम लीडर की बाइडेन को नसीहत- 'पिछली गलतियों की भरपाई करने का मौका'

गौरतलब है कि श्रीलंकाई नौसेना ने हाल के वर्षों में कथित तौर पर अपने जल क्षेत्र में प्रवेश करने पर तमिलनाडु के मछुआरों की कई नौकाओं को जब्त किया है.जब्त नौकाओं में से कुछ को पहले छोड़ दिया गया था.

Video-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.